खाना खाते समय अपनाएं ये नियम, कभी नहीं पड़ेंगे बीमार

22385

आयुर्वेद में आहार और भोजन के संबंध में कई नियम बताए गए हैं। इन नियमों का पालन करने पर बीमारियों से तो बचाव होता ही है, हेल्थ भी अच्छी रहती है और लंबी उम्र मिलती है। इन नियमों में खाने के समय से लेकर मात्रा और प्रकार के बारे में भी बताया गया है।

जानिए ऐसे ही 20 नियमों के बारे में >>

1- सुबह का नाश्ता हैवी ले, लंच उससे 30% कम और डिनर लंच से 30% कम ले
2- विपरीत गुण वाले फूड को एक साथ न खाए जैसे दूध के साथ दही, इससे नुकशान हो सकता है
3- खाना हमेसा बैठकर ही खाए. खड़े होकर या चलते चलते खाने से कई तरह की बीमारियाँ हो सकती है
4- बगैर भूख के भोजन न करे. इससे खाना डाइजेस्टनहीं होता ओर गैस, बदहजमी जैसी प्रॉब्लम हो सकती है

5- पहले खाया हुआ पचने के बाद ही दूसरी बार खाए. खाने के बीच 4-5 घंटे का अंतर होना चाहिए
6- जल्दी जल्दी न खाए, खाना अच्छे से चबाकर खाए. इससे लार अच्छी बनती है ओर खाना जल्दी पचता है
7- खाते समय हँसना, बात करना नुकसानदायक हो सकता है. खाना गले या साँस की नली में फंस सकता है
8- भूख से थोडा कम खाए. पेट में 20% जगह खाली रखे

9- खाने के समय नेगेटिव इमोशन्स न रखे. शांत और प्रसन्न मन से भोजन करे
10- हमेसा गर्म ओर ताजा खाना ही खाए. इससे खाना अच्छे से डाइजेस्ट होता है
11- खाने में ठोस (सॉलिड) और तरल (लिक्विड) का अनुपात 70:30 का रखे
12- लंच के बाद 10-15 मिनट रेस्ट करे (सोए नहीं). डिनर के कुछ देर बाद 10-15 मिनट जरुर तहलें

13- डिनर के 3-4 घंटे बाद ही सोएं. इससे पहले सोने से खाना अच्छे से डाइजेस्ट नहीं होता
14- खाना खाने के करीब 1 घंटे तक पानी न पिएं. इससे डाइजेशन अच्छा होता है.
15- खाने में चिकनाई की मात्रा प्रर्याप्त मात्रा में होनी चाहिए ताकि वह आंतों में अच्छी तरह सरक सके
16- खाना खाने वाली जगह साफ़ सुथरी और शांत होना चाहिए. गंदगी ओर शोर – शराबे वाली जगह में ना खाए

17- आयु ओर प्रकृति के अनुसार ही भोजन करना चाहिए. 40-45 की उम्र के बाद हल्का खाना ही खाएं
18- खाने में कार्बोहाईड्रेटस, प्रोटीन ओर फाइबर का बैलेंस होना चाहिए. साबुत अनाज, सब्जियां, दाले फलियां फ्रूट्स, घी, दही वगेरह शामिल हो
19- नहाने के तुरंत बाद ना खाए ओर न ही खाने के तुरंत बाद नहाए.
20- खाना खाने से पहले अच्छी तरह हाथ पैर धो लें. गंदे हाथो से, गंदे बर्तन में या गंदगी में बना हुआ खाना न खाए