ऐसा कोई रोग नहीं जो इससे ठीक ना होता हो, खांसी जुकाम से लेकर कैंसर तक इलाज होता है.

1922

आयुर्वेद के अलावा मॉडर्न मेडिकल साइंस में भी गौमूत्र पर की गई रिसर्च में इसके हेल्थ बेनिफिट्स को प्रूव किया गया है. अमेरिका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ, भारत सरकार के आयुष डिपार्टमेंट और इंटरनेशनल जर्नल ऑफ फार्मेसी एंड फार्मास्युटिकल साइंसेस में पब्लिश स्टडी में गौमूत्र को कई सीरियस और जनरल बीमारियों के लिए फायदेमंद बताया गया है. क्या कहते हैं एक्सपर्ट और प्रैक्टिशनर?

उत्तराखंड आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय हरिद्वार के स्वस्थ वृत्त विभाग के एचओडी का कहना है कि आयुर्वेद में गौमूत्र का प्रयोग कई बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है कई सालों से गौमूत्र पर रिसर्च कर रहे और गौमूत्र के जरिए कई मरीजों को ठीक कर चुके जैन्स काऊ यूरिन थैरेपी हेल्थ क्लिनिक के डॉक्टर का कहना है कि गौमूत्र अपने आप में एक दवा की तरह है. अगर इसमें कुछ और जड़ी बूटियां मिलाकर दी जाएं तो इसका असर कई गुना बढ़ जाता है.

किन बातों का रखें ध्यान – स्वस्थ देशी गाय का गौमूत्र ही इस्तेमाल करें. गाय प्रेग्नेंट, बूढ़ी या बीमार न हो, गौमूत्र का इस्तेमाल करने से पहले उसे कपड़े की कई परतों से अच्छी तरह छान लें.

कब्ज – आधे कप गुनगुने पानी में दो चम्मच गौमूत्र और एक चम्मच सौंठ मिलकर पीने से कब्ज दूर होती है.

गैस – आधे कप गुनगुने पानी में दो चम्मच गौमूत्र, आधे नींबू का रस और चुटकी भर कला नमक मिलकर पीयें.

पेट की तकलीफ – आधे कप पानी में 2 चम्मच गौमूत्र, एक चम्मच शक्कर और चुटकी भर नमक मिलाकर रेगुलर पीयें.

हार्ट डिजीज – आधे कप पानी में 2 चम्मच गौमूत्र के साथ 1-1 चम्मच आंवला, अर्जुन और शतावरी का पाउडर मिलकर पीयें.

किडनी – आधे कप पानी में 2 चम्मच गौमूत्र के साथ 1-1 चम्मच आंवला, कुथली और शतावरी का पाउडर मिलकर पीयें.

लीवर प्रॉब्लम – 3 चम्मच गौमूत्र में 1-1 चम्मच आंवला, कालमेघ और सौंठ मिलकर सुबह- शाम लेने से लीवर हेल्दी रहता है.

दांत की तकलीफ – आधे कप गुनगुने पानी में 2 चम्मच गौमूत्र मिलकर कुल्ला करने से दांत दर्द और पायरिया में फायदा होता है.

कान में दर्द – गौमूत्र को गर्म करने के बाद थोडा गुनगुना होने पर 2 बूँद कान में डालने से कान के दर्द से राहत मिलती है

.

स्किन प्रॉब्लम – गौमूत्र की मालिश करने और पानी में  गौमूत्र मिलकर नहाने से खुजली और स्किन डिजीज में फायदा होता है.

सर्दी – जुकाम – आधे कप गुनगुने पानी में 2 चम्मच गौमूत्र और चुटकी भर आग पर फूली हुयी फिटकरी डालकर लेने से फायदा होता है.

इस विडियो में देखिये गौमूत्र के अदभुत फायदे >>