इसमे सबसे अधिक कैल्शियम होता है, बच्चो के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए हर रोज दे

18417

सबसे पहले आपको सावधानी बता देते है. जिन लोगो को पथरी अथवा स्टोन है वो कभी भी चुना ना खाए. 
चुना एक बहुत अच्छी आयुर्वेदिक औषधि है. ये कई चीजो में काम आता है. राजीव भाई ने इसका बहुत इस्तेमाल किया है, ये अकेला चुना 70 बीमारियाँ ठीक कर देता है, जैसे एक बहुत बुरी बीमारी है, जोंडिस. जिसको हम पीलिया कहते है वो चुने से ठीक हो जाती है., इसके लिए आप गेहूं के दाने के बराबर चुना गन्ने के रस में मिलाकर पी ले, इससे पीलिया सबसे जल्दी ठीक होता है. अगर किसी को लीवर मे सुजन आ जाए तो चुने से सबसे जल्दी ठीक होता है. जिन्होंने शराब पी पी के अपने लीवर खराब कर लिए है, उनकी सबसे अच्छी दवा चुना है, बहुत ज्यादा दारू पी पी के जिन्होंने अपने लीवर खराब किये हुए है, उन्हें रोज गन्ने के रस में गेहूं के दाने के बराबर चुना मिलाकर खाना है, अगर गन्ने का रस नही मिले तो चुने को गुड़ के पानी में मिलाकर पिए. गुड़ में पानी मिलाये और उसमे चुना मिलाकर पिए उसमे चुने की मात्रा गेहूं के दाने के बराबर ही लेनी है.

जिन बच्चो की लम्बाई नहीं बढती उनको आप हर रोज चुना खिलाइए, उनके लिए ये बहुत अच्छी दवा है, इसे आप बच्चो को साल भर गेहूं के दाने के बराबर डेली खिला दो, इसको आप गन्ने के रस में भी दे सकते है, या दाल के पानी में नहीं तो सादे पानी के साथ भी इसको खिला सकते है. ये चुना उन सब बच्चो के लिए भी बहुत अच्छी दवा है, जिनकी बुद्धि कम काम करती है, जो दिमाग से थोड़े कमजोर बच्चे होता है, जिनको हम मंदबुद्धि बच्चे कहते है, और जो देर मे सुनते है, और देर मे समझते है, जिनके सब काम देर से होते है, देर में चलना सीखते है, ऐसे बच्चो को चुना खिलाओ तो उन्हें बहुत जल्दी फायदा होगा पर इन सब बच्चो को 2-3 साल खिलाना पड़ेगा ये चुना उनके लिए भी बहुत अच्छी दवा है. जो बच्चे बहुत कमजोर है, जिनकी हड्डियाँ दिखाई देती है, ऐसे बच्चो के लिए चुना सबसे अच्छी दवा है. अगर किसी को भी दांत में दर्द होता है, तो उसे चुना खिलाओ तो दर्द तुरंत ठीक होगा, और दांत मे ठंडा गर्म लगता है, तो भी चुना बहुत अच्छी दवा है.

माताओं बहनों को खून बहुत बहता है तो चुने को अनार के एक कप रस में गेहूं के दाने के बराबर खिला दो ये उसमे बहुत अच्छी दवा है. आपके घर मे कोई भी गर्भवती माँ या बहन है, तो उनको चुना जरुर खिलाये अनार के रस मे इसकी गर्भवती माँ को सबसे ज्यादा जरूरत होती है, क्योंकि चुने और अनार के रस में कैल्शियम और आयरन की बहुत मात्रा होती है. चुने मे कैल्शियम बहुत है तो अनार के रस मे चुना मिलके किसी भी गर्भवती माँ को 9 महीने अगर आप दे दो तो बच्चे के जन्म के समय माँ को दर्द नही होगा क्यूंकि जिसने गर्भावस्था में ये चुना खाया है, ये बहुत अच्छा होता है. आपसे प्रार्थना है कि राजीव भाई का ये संदेशा आप 40 करोड़ माताओं को पहुंचा दे. बस इतना काम कर दो कि वो गर्भावस्था के समय गेहू के दाने के बराबर चुना अनार के रस में मिलाकर रोज खाए. कोई भी माँ इतनी गरीब नहीं है कि चुना नही ले सकती, ये बहुत सस्ता आता है, पान वाले से ले लेना. 10 रूपये का 6 महीने से ज्यादा चल जाएगा. अगर कोई आर्थिक रूप से कमजोर है तो अनार के रस की जगह गुड़ के पानी में चुना मिलाके पिए, गुड तो बहुत सस्ता है, ये गरीब से गरीब आदमी के घर मिल जाता है, तो गुड़ का पानी बनाये और उसमे मिलाकर चुना पीते रहे, पुरे नो महीने तो माँ एकदम स्वस्थ और तंदरुस्त रहेगी और बच्चा भी स्वस्थ और तंदरुस्त रहेगा, ऑपरेशन नही कराना पड़ेगा और बच्चा बहुत होशियार बनेगा बहुत ब्रिलियंट बहुत इंटेलीजेंट बनेगा.

ये जो चुना है, ये दिमाग और शरीर दोनों की ग्रोथ करता है, मन मस्तिष्क सब इससे ठीक होता है. जब नाख़ून की बीमारी होती है, तब आप चुना खा सकते है, जिनके नाख़ून सड़ जाते है, काले हो जाते है, तो वो चुना खा ले तो बिलकुल ठीक हो जाएगे. जिनको भी घुटनों का दर्द है, चुने से बिलकुल ठीक हो जाएगा. इससे गठिया के सब रोग भी ठीक होंगे जैसे घुटने का दर्द, कमर का दर्द, कंधे का दर्द, जोड़ो का दर्द इससे सब बहुत जल्दी ठीक होगा. कई बार एक खतरनाक दर्द होता है. जिसे हम Spondylitis  कहते है, ये चुने से ही ठीक हो जाता है. अगर हड्डी टूट गयी है, तो चुना खा लो बहुत जल्दी जुड़ेगी और मजबूत जुड़ेगी, आप इसे पान के साथ भी खा सकते है, बस उसमे कत्था नही लगा सकते, चुना और कत्थे की दुश्मनी है, आप खाली चुना लगा के पान खा सकते है, कथा लगाएगे तो गड़बड हो जाएगी ये जो कत्था है न चुने का असर खत्म कर देता है, कत्था जहर है, इससे कैंसर होता है, आप इसे मत खाया करो, आप खाली पान खाओ, चुने का कत्था मत लो.

माताएं ध्यान से सुने अगर आपके घर मे कोई भी माँ, कोई भी बहन को मासिक धर्म की तकलीफे है, तो चुना उसकी सबसे अच्छी दवा है, जिनको मासिक धर्म समय से नही आता देर में होता है. खून बहुत ज्यादा निकलता है, या खून बिलकुल नही निकलता कभी दो महीने में हुआ, कभी चार महीने मे हुआ, कभी 15 दिन में ही हो गया, ऐसी सब तकलीफों में चुना बहुत अच्छी दवा है, और घर में जितनी माताएं 50 वर्ष की हो गयी उनको जरुर खिलाओ चुना क्यूंकि ये 50 वर्ष की माताओं का मासिक धर्म बंद हो जाता है, तब उस समय बहुत तकलीफ आती है, तो उसमे चुना बिलकुल अच्छा है.

एक बीमारी और है osteoporosis इसकी सबसे अच्छी दवा भी चुना है, इसे एक ही बार सवेरे खली पेट ले. जिनके चेहरे पे मुहासे, फोड़े, फुंसी बहुत निकलते है, उनके लिए ये बहुत अच्छी दवा है. चुना से चेहरा एक दम साफ होता है.  अगर आप चुना खाओगे तो ये चर्बी भी साफ करेगा. अगर आपकी त्वचा मे कोई रोग है psoriasis, eczema है, तो चुना उनको भी ठीक करता है. त्वचा रोग में चुने को गन्ने के रस मे लें सबसे अच्छा है, गन्ने का रस न मिले तो गुड़ का पानी ले लो, वो भी न मिले तो खली पानी में ले लो, नही तो दही मे ले सकते है, दाल मे खा सकते है, दूध को छोडकर किसी में मिलाकर चुना खा सकते है. दूध में नही ले सकते,

आपको ये याद रखना है कि चुना 70 बीमारियाँ ठीक करता है. इसलिए राजीव भाई सबको कहते थे चुना खाओ, लेकिन चुना कभी किसी को लगाना नही है, आजकल लोग एक दुसरे को चुना बहुत लगाते है, और कुछ तो ऐसे महान लोग है, देश को भी चुना लगाते है. परम पिता परमात्मा ने भारत में बहुत कृपा की है, ये चुना सबसे ज्यादा भारत में ही है, ये वही चुना है जो पान वाले लगते है, ये पत्थर से बनता है चुने का पत्थर आता है उसको आप पानी मे डाल तो उससे चुना बन जाएगा. आप उस चुने को खाइए

आपको वो चुना नहीं खाना है जो तम्बाकू के साथ पैकेट में आता है. आप जो चुना खायेगे वो तम्बाकू मिला हुआ नही होना चाहिए, शुद्ध चुना खाइए वो पैकेट में आता है. आजकल मार्किट में गिला चुना आता है, आप वो ले सकते है, लेकिन चुने के साथ तम्बाकू नहीं खाना है क्योकि तम्बाकू के साथ ये जहर का काम करता है. चुने की दो चीजो से जबरदस्त दुश्मनी है, एक कत्था और एक तम्बाकू, दुर्भाग्य से लोग इन्ही के साथ खाते है. अगर आप चुने को तम्बाकू के साथ खाओगे तो यही चुना कैंसर कर देता है, और यही चुना सुपारी के साथ कत्था मिलाकर खाओगे तो पत्थरी बना देता है. जिसके साथ चुना मेल खाता है, उसके साथ अगर आप इसे खाओगे तो ये अमृत है इसलिए आपको चुना खाने में सावधानी रखनी है, कि इसे एक तो सुपारी, दूसरा कत्थे के साथ नही खाना है, और तम्बाकू के साथ भी नही खाना है, और एक बात का और ध्यान रखे जिनको पत्थरी हो गयी है वो कभी भी चुना न खाए.

इस विडियो में देखिए चुना खाने के फायदे >>