शेविंग करने का सबसे अच्छा तरीका ! स्किन कभी भी ख़राब नही होगी

2784

शेविंग करने के दौरान कई ऐसी बातें हैं जिन्हें ध्यान रखना जरूरी होता है। अगर जरा सी भी लापरवाही बरती जाए तो पिंपल्स, ड्राय स्किन और स्किन इन्फेक्शन जैसी प्रॉब्लम्स हो सकती हैं। कई बार हमारा शेविंग करने का तरीका गलत होता है, जिसका स्किन पर बुरा असर पड़ता है और स्किन पर लाल निशान पड़ने लगते हैं। हम बता रहे हैं शेविंग से पहले और बाद में ध्यान रखने वाली 7 बातों के बारे में

फेस वाश न करना – शेविंग से पहले फेस वाश न करने से स्किन और बाल रह जाते हैं इससे शेविंग के दौरान काटने और इन्फेक्शन का खतरा बढ़ जाता है

उल्टी शेविंग करना – कई लोग क्लीन शेविंग के बालों के उलटे डायरेक्शन में शेविंग करने लगते हैं इससे स्किन के फोलिकाल्स को नुकसान पहुँचता है और स्किन रेड और हार्ड होने लगती है

गलत रेजर सिलेक्शन- सेंसिटिव , हर्दौर पिंपल्स वाली स्किन के लिए मार्किट में अलग अलग रेजर अवेलेबल होती है स्किन के हिसाब से रेजर का सिलेक्शन न करने से स्किन को नुकसान पहुँच सकता है

ओप्रटर शेव का यूज करना – शेविंग के बाद यूज किये जाने वाले ओफ्टर शेव में फ्रेगरेंस की काफी मात्र होती है जो स्किन की नमी को कम करते हैं इसमें मोजूद केमिकल्स स्किन इन्फेक्शन पैदा कर सकते हैं

मोइशचराइज़र न लगना – शेविंग करने के बाद स्किन ड्राई होने लगती है ऐसे में मोइशचराइजरन लगाने से स्किन पर झुरियां की प्रॉब्लम बढ़ सकती है

सुनस्क्रीन न लगाना – शेविंग करने के बाद स्किन सॉफ्ट हो जाती हैं ऐसे में सुनस्क्रीन न लगाने और धुप के संपर्क में आने से स्किन तुरंत ड्राई होने लगती हैं

ठंडा पानी यूज न करना – शेविंग के बाद चेहरे को ठन्डे पानी से न धोने पर मोइशचर ख़त्म होने लगता हैं.

क्या आपके चेहरे की त्वचा रुखि सुखी और कठौर हो गयी है? क्या आप विदेशी शेविंग क्रिम से अपने चेहरे कि सुंदरता खो चुके है? नॉयलोन के ब्रश से त्वचा सख्त हो जाती है और रासायन युक्त क्रीम से त्वचा को भारी क्षति पहुँचती है, इससे प्राकृतिक सौंदर्य तो जाता ही है केमिकल से त्वचा संबंधी बीमारियों का खतरा रहता है. आप एक काम कीजिए एक बार शेविंग क्रिम से कपडे धो कर देखे, आपको इसमे डिटर्जेंट की भी पुष्टि हो जाएगी.

मेरा निवेदन है कि यह फालतू के सेविंग क्रीम क्यों लगाते हो, पामोलिव, ओल्ड स्पाइस, वी-जॉन, डेटोल आदि। दाढ़ी बनाने के तो 20 तरीके हैं, उनका इस्तेमाल क्यों नहीं करते। हम सेविंग क्रीम लगाकर जो दाढ़ी बनाते हैं तो इसकी प्रॉब्लम ये है कि स्किन लगातार हार्ड होती चली जाती है, रफ होती जाती है, रफ्नेश एक समय इतनी बढ़ जाती है कि दो-तीन बार सेव करो, फिर भी क्लीनिंग नहीं आती क्योंकि वह शेविंग क्रीम ऐसी है, उसमें केमिकल एसिड है तो फिर आप क्यों लगा रहे हैं ? बंद कर दो। फिर आप बोलोगे, दाढ़ी कैसे बनाएं ?

थोड़ा दूध ले लो, चेहरे पर मालिश करो, एकदम चिकनाहट आ जाएगी, उस पर रेजर चलाओ, बहुत क्लीन सेव बनती है, दही लगाकर रेजर चलाओ और भी अच्छी से बनती है। तेल ले लो, एक बूंद तेल पानी में मिलाकर चेहरे पर लगाओ, दूध से दाढ़ी बनाइए, बहुत मजा आएगा। मात्र 3 चम्मच दुध (कच्चा या उबला) ले लीजिए, इसे अपने चहरे पर लगा लीजिए और 20 सेकेण्ड तक त्वचा पर हल्के हाथो से मलिए, अब ब्लेड से साफ कर लीजिए. ये कितना कारगर है इसे प्रयोग के वक्त आप ख़ुद महसूस करेंगे मै डंके की चोट पर कहता हूँ, इस भारतीय तरिके से आपका ब्लैड 1 महीने से भी ज्यादा चलेगी.  त्वचा कोमल बनी रहेगी और इस काम को करने में आपको मात्र 3 मिनट लगेंगे

दूध जो है वह क्लीनसिंग एजेंट है। आपको पता है सारे ब्यूटीपार्लर में मिल्क क्लीनसिंग ही किया जाता है। आप रोज दूध से दाढ़ी बनाएंगे, सारी गंदगी निकल जाएगी, चेहरा चमकेगा, आप सब फोकट में स्मार्ट हो जाओगे । मैं तो बहुत समय से करता हूं, दूध से दाढ़ी बनाता हूं, पैसे आपके बचेंगे अल्टीमेटली देश के बचेंगे। किसी भी देश की अर्थव्यवस्था में आमदनी बढ़ानी है तो खर्चे को घटाना सबसे आसान तरीका है, आप जितना खर्चा घटाएंगे आमदनी उतनी ही बढ़ जाएगी।

अपनी जिंदगी के छोटे-छोटे खर्चे घटाओ, देश का बड़ा खर्चा अपने आप घट जाएगा, शेविंग क्रीम फालतू खर्च मत करो, दूध से दाढ़ी बना लो, दही से दाढ़ी बना लो। आपको तो मालूम है कि हम दूध से शंकर भगवान को स्नान कराते हैं, दूध से दाढ़ी क्यों नहीं बना सकते, जब ईश्वर स्नान कर सकते हैं तो हम दाढ़ी तो बना ही सकते हैं। मनुष्य में पुरुषों को एक बहुत ख़राब बीमारी होती है दाढ़ी बनाओ तो उसके बाद लाल लाल फुंसियां हो जाती है उनको बोलो कि एलोवेरा का रस लगाकर फिर सेविंग करें कभी तकलीफ नहीं आती बहुत अच्छी दवा है घर में भी लगा सकते हैं खेत में भी लगा सकते हैं

वैज्ञानिक पूष्टि 

दुध त्वचा की चमक और कोमलता को क्षीण नही होने देता और इसकी अन्दर तक सफाई भी करता है. जब आप ब्लैड से दाडी बनाते है तो ब्लैड और बालों के बीच जितना कम घर्षण होगा उतनी जल्दी और आसानी से शेविंग हो जायेगी. दूध में उपस्थित लैक्टिक एसिड पानी के SURFACE TENSION और VISCOSITY FORCE को सबसे आसानी से तोडता है और बालों – ब्लैड के बीच का घर्षण कम कर के त्वचा को खुब्सुरत बनाता है.

और प्राकृतिक होने के कारण लैक्टिक एसिड त्वचा के लिए बाह्य प्रोटीन का काम करता है. दूध से दाड़ी बनाते वक्त ब्लैड और त्वचा के बिच जो चिकनाहट पैदा होती है वो शेविंग क्रीम से 100 गुना ज्यादा बेहतर होती है यही कारण है कि दूध के प्रयोग में त्वचा से खून निकलना नामुमकिन है l

बिना खर्च वाला और सबसे बेस्ट तरीका इस विडियो में देखिए >>

 

दोस्तों जब आप सविंग क्रीम से सेव करते है तो उसमे मौजूद केमिकल आपकी तवचा पर हानिकारक प्रभाव होता है लेकिन अब आप परेशान न हों, आपके किचन में ही कई ऐसी चीजें मौजूद हैं जो आपकी स्किन को शेविंग क्रीम से भी ज्यादा सॉफ्ट बना देंगी और आपको क्लोज शेव में हेल्प करेंगी।

जानिए कौन सी हैं वो 8 चीजें

कच्चा दूध – कच्चा दूध चेहरे पर लगने से स्किन और बाल सॉफ्ट हो जाते है और शेव बढ़िया बनती है, अगर आपको दूध की जाग मिल जाए तो बहुत अच्छा है और आपको एक जानकारी और दे दू . दूध सबसे बढ़िया cleaning agent है, जो आपके चेहरे को सॉफ्ट के साथ साथ गोरा भी बनाता है, देश और विदेश में बहुत सी जगह कच्चे दूध से मसाज भी की जाती है.

शहद – शहद को हल्के गनगुने पानी में मिलाकर फेस की मसाज करे. बाल सॉफ्ट हो जाएंगे और बढ़िया सेव बनेगी

नारियल तेल – शेव से पहले नारियल तेल से स्किन मसाज करे. ये रेजर बर्न और ड्रायनेस से भी छुटकारा दिलाएगा

बटर – ये बढ़िया मोइस्टरैजेर (Moisturizer)  है. ये कड़े बालो को सॉफ्ट कर देता है. जिससे वे आसानी से निकल जाते है

केला – सेविंग क्रीम को छोड़े और स्किन पर केले का गुदा लगाकर मसाज करे. फिर सेव करेंगे तो क्रीम से भी अच्छी तरह सेव होगी.

पपीता – इसमे मौजूद पापेन नमक एंजाइम स्किन के रेशेज और जलन दूर करता है. फेस पर मसाज करके फिर शेव करे.

एलोवेरा जेल – ये आरामदायक ठंडी शेव देता है. इससे स्किन पर हल्की मसाज करें और फिर शेव करें. इससे जलन से भी राहत मिलेगी.