इन 6 चीजों से कम हो रही है पुरुषों में फर्टिलिटी, तुरंत करे कण्ट्रोल

6527

एक स्टडी के मुताबिक, आजकल की लाइफस्टाइल के कारण पुरुषों में फर्टिलिटी और स्पर्म काउंट कम होता जा रहा है। इंटरनेशनल फर्टिलिटी सेंटर की चेयरपर्सन डॉ. रीता बख्शी का कहना है कि स्पर्म काउंट और क्वालिटी कमजोर होने के पीछे लाइफस्टाइल से जुड़ी कई आदतें जिम्मेदार हैं। इन आदतों और चीजों के कारण पुरुषों में इन्फर्टिलिटी और पिता बनने की क्षमता कमजोर होती जा रही है। इन कारणों पर दुनिया भर की कई जगहों पर रिसर्च की गई है।

जीन्स के बारे में आपको बता दू कि अगर आप लगातार जीन्स पहन रहे है तो आपको नपुंसकता आ सकती है. आज मॉडर्न मेडिकल साइंस जिसको एलॉपथी चिकित्सा भी कहते है उन्होंने भी इसे माना है कि जीन्स पहनने से नपुंसकता आती है.

वैज्ञानिक कारण :- हमारे शरीर का तापमान 37 डिग्री सेंटीग्रेट होता है, और हमारे वीर्य में जो शुक्राणु होते है उनका तापमान इससे 2 डिग्री कम यानी 35 डिग्री सेंटीग्रेट होना चाहिए. तभी वो जीवित रह सकते है, अगर 35 से ज्यादा होता है तो वो नष्ट होने लगते है. इसलिए ही पुरुषों में अंडकोश को शरीर से बहार रखा गया है. ताकि हमारे शुक्राणु जीवित रह सके. लेकिन हमने क्या किया, विदेशी वेशभूषा अपना ली और टाइट कपडे पहनना शुरू कर दिया और हम वेशभूषा की गुलामी के शिकार हो गए. सोचो हमारे ऋषि मुनि कितने बड़े वैज्ञानिक थे जिन्होंने खोज की कि आप खुले और हवादार वस्त्र पहने जिसमे कुर्ता पजामा, धोती कुर्ता है. यानि कि हम भारतीय वेशभूषा में रहे. जिससे हमारे अंडकोश के आसपास का तापमान सामान्य रहे, शीतल रहे. आजकल क्या हो गया है कि लोगो ने बहुत टाइट कपडे पहनना शुरू कर दिया है. चड्डी (Underwear) भी बहुत टाइट पहनना शुरू कर दिया है.

आइए जानते हैं, रिसर्च के मुताबिक स्पर्म काउंट डैमेज करने वाली कौन-सी 6 चीजें हैं।

1- कम सोना – 6 घंटे से कम सोने वालों में स्पर्म काउंट कम होने के चांस 31% तक ज्यादा होते है.

कारण – देर तक जागने से स्ट्रेस लेवल बढ़ जाता है, ब्लड सेर्कूलेशन बिगड़ता है, जिससे स्पर्म काउंट कम होने लगता है

2- प्रोसेस्ड और जंक फूड – ज्यादा प्रोसेस्ड और जंक फूड खाने वालो का स्पर्म काउंट और क्वालिटी कमजोर हो जाती है

कारण – प्रोसेस्ड फूड में मौजूद नमक, केमिकल और प्रिजर्वेटिव स्पर्म को नुकसान पहुचाते है

3- ज्यादा मीठा – ज्यादा मीठा खाने से डायबिटीज हो सकती है. स्पर्म काउंट में 50% तक कमी आ सकती है

कारण – हेल्दी स्पर्म के लिए जरुरी Testosterone हार्मोन का प्रोडक्शन कम हो जाता है

4- स्ट्रेस और टेंशन – ज्यादा स्ट्रेस और टेंशन के कारण स्पर्म काउंट और क्वालिटी कमजोर होती है, नपुंसकता भी आ सकती है

कारण – स्ट्रेस के कारण बॉडी में बनने वाले हार्मोन और प्रोटीन स्पर्म को डैमेज करते है

5- इलेक्ट्रॉनिक गजेट्स – इलेक्ट्रॉनिक गजेट्स का ज्यादा इस्तेमाल, पेट के सामने कीई जेब में मोबाइल रखने से स्पर्म काउंट कम होता है

कारण – इन गजेट्स से निकलने वाले रैडिएशन और गर्मी के कारण स्पर्म डैमेज होते है

6- शराब और सिगरेट – बहुत ज्यादा शराब और सिगरेट पीने से स्पर्म काउंट में 30% और क्वालिटी में 50% से ज्यादा गिरावट हो सकती है

कारण – अल्कोहल और निकोटिन के आलावा नशीली चीजों में मौजूद कई टोक्सिंस स्पर्म को नुकसान पहुचाते है.

(सोर्स: नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ, यूएसए)

जिन भाई के स्पर्म काउंट कम हो गए है वो इस तरीके से बढ़ा सकते है >>