बादाम से ज्यादा असरदार है चना, रोज खाएंगे तो मिलेंगे ये 10 फायदे

74577

बादाम की तुलना में चना कम कीमत में ज्यादा फायदे देता है। इसलिए इसे गरीबों का बादाम भी कहा जाता है। वेजिटेरियंस के लिए चना प्रोटीन का अच्छा सोर्स है। प्रोटीन के अलावा भी इसमें पोटैशियम,मैग्नीशियम और फॉलेट जैसे न्यूट्रिएंट्स होते हैं जो हार्ट प्रॉब्लम और BP कंट्रोल करने में फायदेमंद है।

डायटीशियन रूपाली तिवारी बता रही हैं चना खाने के 9 फायदे

कमजोरी दूर करता है – चने में पाए जाने वाले आयरनप्रोटीन सहित ढेर सारे मिनिरल से बॉडी को एनर्जी और एंटीओक्सिडेंट मिलते है. इससे कमजोरी दूर होती है
हार्ट डिजीज से बचाता है – चने में पाए जाने वाले अल्फा लिनोलेनिक एसिड और ओमेगा 3 फैटी एसिड कोलेस्ट्रोल कम करते हैं और हार्टअटैक से बचाते हैं
अच्छी नींद लाता है – चने में पाए जाने वाले अमोनिया एसिडस ट्रायपटोफेन और सेरोटोनिन अच्छी नींद लाने में मदद करते हैं
एनिमिया में फायदा करता है – चने में काफी मात्रा में आयरन पाया जाता है जिससे एनीमिया जैसी प्रॉब्लम में फायदा होता है

बोनस मजबूत करता है – चने में दूध और दही के समान कैल्शियम पाया जाता है जिससे हड्डियां मजबूत बनती है
किडनी की सफाई करता है – चने में भरपूर मात्रा में फास्फोरस पाया जाता है जो कि हिमोग्लोबिन का लेवल बढ़ाता है और किडनी से एक्स्ट्रा सोल्ट बाहर निकलता है
टेंशन और स्ट्रेस दूर करता है – चने में अमीनो एसिड्स ट्रायपटोफेन और सेरोटोनिन पाए जाते हैं जो टेंशन और स्ट्रेस दूर करते हैं
डायबिटीज कंट्रोल करता है – चना ग्लायसेमिक इंडेक्स में काफी नीचे है इसमें पाए जाने वाले फाइबर और प्रोटीन से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करते हैं

पीलिया में फायदा करता है – चने में मौजूद मिनरल और आयरन पीलिया की बीमारी में काफी फायदा करते हैं
स्किन डिजीज इस में फायदा करता है – चने में फॉस्फोरस और मैगनीज ऐसे मिनरल होते हैं जो रिंगवार्म और खुजली जैसी स्किन डिजीज इस में पैदा करते हैं