सफ़र करने वाली हर महिला को फॉलो करना चाहिए ये tips

1189

क्या आप ट्रेन में अकेले सफर करती हैं? यदि आपका जवाब हां में है, तो कुछ खास टिप्स अपनाकर आप अपनी यात्रा को मंगलमय बना सकती हैं. क्योंकि पिछले कुछ सालों में लगातार ट्रेन में क्राइम बढ़ता जा रहा है. ये बात खुद जीआरपी ने अपनी एक रिपोर्ट में माना है. ऐसे कंडीशन में महिलाओं को अपनी सेफ्टी के लिए खुद अलर्ट रहना होगा. आज आपको बताने जा रहे है कुछ ऐसे ही यूजफुल टिप्स, जो ट्रेन में सफर करने वाली हर महिला को फॉलो करना चाहिए.

सफ़र करने वाली हर महिला को फॉलो करना चाहिए ये टिप्स >>

कपडे की चॉइस निजी मामला है, लेकिन यदि आप सफ़र कर रही है तो हमेशा सिंपल कापे पहने. क्योंकि इंडिया में रीविलिंग कपड़ों से आप मुसीबत में पड़ सकती है.

अजनबियों से बातचीत सीमित रखें. खासतौर से अजनबी पुरुषों से बात करने या उनका जवाब देने से बचें.

अकेली लड़कियों के लिए सबसे ऊपर वाली बिर्थ ही सुरक्षित होती है. इसलिए आप चाहें तो दुसरे पैसेंजर्स से बात करके अपनी सीट एक्सचेंज कर सकती है.

अगर आप पुरुषों की बोगी में अकेली महिला है तो टीटीई से बोलकर ऐसी बोगी में सीट चेंज करवाएं, जहाँ फॅमिली मौजूद हो.

सोते समय सीट के खाली स्पेस को सामान से कवर कर लें. नही तो कोई भी असामाजिक व्यक्ति बुरी नियत से आकर पास बैठ सकता है. बेसुध कभी न सोएं.

अपना हैण्ड बैग हमेशा हाथ में लपेटकर सोएं या सिर के नीचे रखकर. इससे कोई बैग निकालने की कोशिश करता है, तो तुरंत आपको पता चल जाएगा.

अकेले में कभी भी लेट नाईट ट्रेन लेने से बचें. ट्रेन की टाइमिंग का हमेशा ध्यान रखें, ताकि कभी भी प्लेटफार्म पर अकेले इंतेजार करने की नौबत न आए.

ट्रेन में फ़ोन पर या साथ बैठे लोगों से कभी अपनी पर्सनल डिटेल्स शेयर न करें. आपकी बातें सुनकर कोई भी फायदा उठाने की कोशिश कर सकता है.

कोशिश करें, फ़ोन किसी की नजर में न आए. क्यूंकि जब कोई हार्म पहुँचाने की ताक में होता है, तो पहले मोबाइल चुराने या उसे नुकसान पहुँचाने की ही कोशिश करता है.

अपने पास सेफ्टी के लिए पेपर स्प्रे, परफ्यूम, पेन, जुदा पिन या कोई स्टिक रख सकते हैं, ताकि मुसीबत के समय अपनी सेफ्टी के लिए यूज़ किया सके.