क्या आप इयर बड से कान साफ करते हैं? तो इन 8 वजहों से तुरंत छोड़ दीजिए

47446

अगर आप भी अपने कान की मैल साफ करने के लिए इयर बड का इस्तेमाल करते हैं तो सावधान हो जाइए। इयर बड आपके कान को नुकसान पहुंचा सकती है। इसके कारण कान के पर्दे फट सकते हैं, सुनने की क्षमता कम हो सकती है या फिर कान से जुड़ी कोई और प्रॉब्लम हो सकती है। आइए जानते है क्या कहते हैं स्पेशलिस्ट…

ENT स्पेशलिस्ट डॉ. गुणवंत यशलहा का कहना है कि आमतौर पर कान की मैल साफ करने की कोई जरूरत नहीं होती क्योंकि ये कान में धूल मिट्टी जाने से बचाव करती है और समय-समय पर कान की बनावट के कारण खुद ही साफ हो जाती है। जानिए ऐसे 8 कारण जो बताते हैं कि इयर बड से कान साफ करना क्यों नुकसानदायक है।

1 – बार बार इयर बड डालने से कान की नली का छेद चौड़ा हो जाता है. इससे कान में ज्यादा धुल-मिटटी जाकर नुकसान पंहुचा सकती है.

2 – इयर बड से कई बार मैल बाहर निकलने की बजाय अंदर पुश होकर पर्दे तक पहुच जाता है. इससे कम सुनाई देना, कान में सिटी बजने जैसी प्रॉब्लम हो सकती है.

3 – कान का पर्दा काफी नाजुक होता है. इयर बड जैसी कोमल चीजे भी उसे नुकसान पहुचा सकती है. इससे कान के अंदर की स्किन छिल सकती है.

4 – इयर बड की रुई काम के अंदर रह जाने से नहाने के दौरान कान में गया पानी रुई सोख लेती है और फंगल इन्फेक्शन हो सकता है

5 – अनजाने में इयर बड कान के अंदर तक चला जाता है और कान के पर्दे को नुकसान पंहुचा सकता है

6 – इयर बड से मेल निकालने की कोशिश में कान में खुजली हो सकती है इससे बार-बार कान में कुछ न कुछ डालने की आदत पड़ सकती है.

7 – पुरानी और गंदी इयर बड  से मैल निकालने की कोशिश में कान में और गन्दी जा सकती है इससे इन्फेक्सन हो सकता है

8 – कान के मैल का चिपचिपापन अंदर पर्दे तक धुल और गन्दी पहुचाने से पहले ही रोक लेता है. इसे साफ कर देने से गन्दी पर्दे तक पहुच कर नुकसान कर सकती है

इस विडियो में देखिए ये कितना खतरनाक है >>

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने  Whatsapp और  Facebook पर शेयर करें