जानिए सेंधा नमक के फायदे और गुण, सफ़ेद नमक से नपुंसकता आती है, आज ही बंद कर दें

938

सेंधा नमक पहाड़ों से प्राप्त होता है, इस कारण से यह प्राकृतिक औषधि माना जाता है। सेंधा नमक सबसे शुद्ध नमक माना जाता है, क्योंकि इसमें मिलावट और रसायन नहीं होते हैं। सेंधा नमक पहाड़ों से प्राप्त होता है, इस कारण से यह प्राकृतिक औषधि माना जाता है। जबकि सादा या सफ़ेद नमक समुद्र से प्राप्त किया जाता है और आयोडीन से निर्मित होता है, जो शरीर के लिए नुकसानदेह होता है। इसकी शुद्धता के कारण इसे व्रत में भी उपयोग किया जाता है|

बहुत कम लोग जानते हैं कि यह नमक सिर्फ एक मसाला नहीं है बल्कि इसमें सारे तत्व शामिल है जो एक शरीर की जरुरत होते हैं। जैसे की लोहा, कैल्शियम, पोटेशियम, जिन्क और भी बहुत कुछ सेंधा नमक में मौजूद होता हैं। इसे आप खाने में मिलाकर खा सकते हैं| यही वजह है कि सेंधा नमक कई आयुर्वेदिक और पाचन चूर्ण में इस्तमाल किया जाता है।इसलिए हम आपको सेंधा नमक का उपयोग करने से सेहत से जुड़े फायदो के बारे में जानते हैं।

दांत चमकाए

रेगुलर सेंधा नमक के पानी से गरारे करने से दांतों के बेक्टीरिया ख़त्म होते हैं| साथ ही दांतों की चमक बढ़ती है

गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद

प्रेगनेंसी के वक्त गर्भवती महिलाओं को अलग-अलग स्थिति से गुज़रना पड़ता है जिसमें से बहुत सी स्थिति ऐसी होती है जो कि उनके लिए बहुत ही मुश्किल होती है। इसमें उल्टियां होना, बल्ड प्रेशर कम होना और मॉर्निंग सिकनेस सबसे ज्यादा होती है। घरेलू उपचारों में से एक है सेंधा नमक जो कि गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होता है।

हेल्दी हार्ट / ब्ल़ड प्रेशर होता है नियंत्रित

सेंधा नमक बॉडी का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर बनता है| इससे हार्ट डिजीज का खतरा कम होता है| सेंधा नमक प्रेंगनेंट महिलाओं के ब्लड प्रेशर को कम करके नियंत्रित किए रहता है। सेंधा नमक गर्भवती महिलाएं चटनी या फिर किसी और खाने की चीज़ के साथ ले सकती हैं।

वज़न कंट्रोल / मोटापा से रखता है दूर

सेंधा नमक बॉडी का मेटाबोल्जिम सुधरता है, इससे वज़न घटाने में मदद मिलती है | इसके साथ ही अनियमित नींद से भी दूर रखता है।

वेस्ट निकाले

सेंधा नमक में सल्फेट की मात्रा पर्याप्त होती है जो बॉडी के टोकिसंस बाहर निकलता है, जिससे इंटरनल इन्फेक्शन का खतरा दूर होता है|

हेल्दी स्किन

सेंधा नमक को पानी में मिलाकर नहाने से स्किन के पोर्स खुलते हैं, इससे पिंपल्स, स्किन इन्फेक्शन और झुरियों की समस्या दूर होती है|

ये विडियो भी देखे >>

स्ट्रेस

सेंधा नमक को गुनगुने पानी के साथ पीने से बॉडी में सेरोटोनिन और मेलाटोनिन का लेवल बढ़ जाता है, जिससे स्ट्रेस दूर होता है|

कब्ज़ / डायजेशन में करता है मदद

सेंधा नमक मेटाबोलिज्म ठीक करता है इससे डायजेशन बेहतर होता है| इससे कब्ज़ की समस्या दूर होती है|

डायबिटीज़

सेंधा नमक में मोजूद मैग्नीशियम और सल्फेट बॉडी में इन्सुलिन लेवल बैलेंस करते हैं| इससे डायबिटीज़ की समस्या कम होती है|

मसल्स पेन / मसल क्रैम्प से करता है बचाव

सेंधा नमक इलेक्ट्रोलाइट्स को बैलेंस करता है| इससे मसल्स पेन दूर होता है|

सफेद नमक के नुकसान

सफ़ेद नमक में आयोडीन की उपस्थिति इसे अत्यधिक जहरीला पदार्थ बना देती है। जिसके नित्य प्रतिदिन सेवन से नपुंसकता जैसी गंभीर बीमारी भी हो सकती है|

सफ़ेद नमक का पर्याप्त मात्रा में सेवन नहीं करने से रक्तदाब पर बुरा असर पड़ सकता है। इसका अधिक सेवन रक्तप्रवाह को अनियंत्रित कर देता है।

वैज्ञानिकों के अनुसार सफ़ेद नमक अधिक खाने वालों में बालों की समस्या बनी रहती है। ऐसे व्यक्तियों के बाल अधिक झड़ते है एवं बालों में मजबूती भी नहीं रहती।

सफ़ेद नमक का नित्य सेवन पेट के लिए हानिकारक होता है। इससे मोटापा, पेट दर्द, वजन बढ़ना आदि समस्याएँ उत्पन्न हो जाती है।

अधिक नमक के सेवन से त्वचा संबंधी कई रोगों का आपको सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि सफ़ेद नमक खाने से शरीर में आवश्यकता से अधिक पसीना आने लगता है, जो कि शरीर के लिए हानिकारक होता है।

सफ़ेद नमक आपको नपुंसक बना सकता है, विडियो में देखिये >>