घर के इन 13 सामानों की भी होती है Expiry Date, कहीं जान पर न बन आए

751

घर में बहुत सारी चीजें ऐसी होती है जिन्हें हम लोग सालों साल इस्तेमाल करते रहते हैं और तब तक उन्हें घर से बेघर नहीं करते जब तक वो चीजें खराब न हो जाए या फिर आपके हाथों टूट न जाएं। लेकिन क्या आपको पता है दवाओं की ही तरह घर के सामानों की भी एक्सपाइरी डेट होती है भले ही वो चीजें खराब न हुई हो।

तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि ऐसी कौन सी रोजाना इस्तेमाल होने वाली चीजें हैं जिन्हें एक समय के बाद सेहत के मद्देनजर आपको हटाने का फैसला ले लेना चाहिए।

सालभर में बदल दें तौलिया

अक्सर लोग तौलिए को एक बार खरीदते हैं तो यही सोचते हैं कि हो गई कम से कम 2 से 3 तीन साल की फुर्सत। अगर आप भी ऐसा ही सोच रहे हैं तो अपनी सोच को आज ही बदल लीजिए। तौलिए को कम से कम एक साल बाद जरूर बदल लेना चाहिए। रोजाना इस्तेमाल करने से उसका मुलायम पन खत्म हो जाता है और वो आपकी स्किन को नुकसान पहुंचा सकता है।

6 महीने में लाए दूसरा कंघा

जिस तरह तौलिए का इस्तेमाल एक साल तक ही करना चाहिए वैसे ही बालों को काढ़ने के लिए इस्तेमाल होने वाले कंघे को कम से कम 6 महीने में जरूर बदल दें। ऐसा इसलिए क्योंकि कंघे के प्वाइंट्स इस्तेमाल करते हुए शार्प हो जाते हैं जो कि कंघा करते समय आपके स्काल्प को नुकसान पहुंचा सकता है।

घर में सबके साबुन हो अलग-अलग

घर में कई तरह के लोग होते हैं लेकिन देखा जाता है कि ज्यादातर घरों में लोग नहाने के लिए एक ही साबुन का इस्तेमाल करते हैं। अगर आप भी ऐसा ही कर रहे हैं तो इस आदत को छोड़ दें और सभी के साबुन को अलग-अलग कर दें। ऐसा इसलिए क्योंकि साबुन से इन्फेक्शन जल्दी फैलता है।

एक ब्रश का न करें ज्यादा इस्तेमाल

दांतो को साफ करने वाला ब्रश या यूं कहे कि सुबह सवेरे जब भी हम लोग ब्रश करते हैं तो इस बात का ख्याल रखें कि आपको दातों पर जिस भी ब्रश का इस्तेमाल हो रहा है वो मुलायम हो। इसलिए आपको चाहिए ब्रश को कम से कम 3 से 4 महीने के अंतराल में बदल दें।

तकिया

इसकी एक्सपायरी डेट 2-3 साल होती है। समय के साथ-साथ तकिया धूल के कणों का ठिकाना बनने लगता है। इसके साथ ही इसका आकार भी बदल जाता है जिसके कारण गर्दन में दर्द की शिकायत हो सकती है।

चप्पल

चप्पल की औसतन एक्सपायरी डेट छह महीने होती है। इनसे फंगल इनफेक्शन फैलने का डर रहता है इसलिए एक निश्चित समय के अंतराल पर उन्हें धुलते रहना चाहिए।

स्पन्ज और शावर पूफ

बाथरूम में इस्तेमाल होने वाले स्पन्ज की एक्सपायरी डेट दो सप्ताह होती है और शावर पूफ की एक्सपायरी डेट छह महीने होती है। एक्सपायरी डेट निकलने के बाद इन प्रॉडक्ट्स में फंगस लगने लगती है। नेचुरल और सिंथेटिक शावर पूफ्स को पानी में उबालकर इस्तेमाल कर सकते हैं इससे उसके बैक्टीरिया मर जाते हैं।

परफ्यूम

परफ्यूम की एक्सपायरी डेट 1-3 साल होती है। इसमें कई खास प्रकार के ऑइल मिलाए जाते हैं जो केवल 3 साल तक सुरक्षित रहते हैं। हालांकि अगर परफ्यूम खुला रखेंगे तो यह 2 साल तक ही सुरक्षित रहेगा।

पैसफायर

इसकी एक्सपायरी डेट 2-5 सप्ताह होती है। लेटेक्स के बने पैसफायर को एक निश्चित अंतराल के बाद बदलते रहना चाहिए। लेटेक्स आसानी से कट-फट जाता है और इन दरारों में रोगाणु पनप सकते हैं।

चाइल्ड कार सीट

कार में लगी चाइल्ड सीट की उम्र 6-10 साल होती है। समय के साथ सीट की प्लास्टिक और फोम खराब होने लगता है। इससे सीट का आकार बदलने लगता है और बच्चा सुरक्षित नहीं रहता।

जूते

जूतों की औसत उम्र एक साल होती है। 250-300 मील तक इस्तेमाल करने के बाद जूते अपनी मुलायमता खोने लगते हैं, इससे उन्हें पहनकर चलने से आपके जोड़ों में दर्द बढ़ने की संभावना रहती है।

पिसे हुए मसाले

समय के साथ मसालों का स्वाद फीका पड़ता जाता है और उनकी खुशबू भी गायब होने लगती है। पिसे हुए मसालों को 6 माह से अधिक समय तक नहीं रखना चाहिए।

अग्निशामक

अग्निशामक यंत्रों की एक्सपायरी डेट 15 साल होती है। लेकिन अगर आपके अग्निशामक में किसी तरह की कोई खराबी है तो इसे तुरंत बदलें।