किडनी रोग यानी गुर्दे खराब होने की समस्या के लक्षण और उसके इलाज

501

हमारे देश में किडनी रोग यानी गुर्दे खराब होने की समस्या बहुत तेज़ी से बढ़ी है. हमारी बदलती हुई खान-पान की आदते और भाग-दौड़ की जिंदगी, प्रदूषित पानी और प्रदूषण की वजह से किडनी की बीमारियां बढ़ रही हैं. हम दिनभर में कुछ ऐसी गलतियां कर देते हैं, जिनका किडनी पर बुरा असर पड़ता है. अगर सही समय पर इन गलतियों को सुधार लिया जाए तो किडनी को हेल्दी रखा जा सकता है. हम कुछ कारण और बचने के उपाए आपको बता रहे है जो आपके लिए उपयोगी है.

यूरीन रोक कर रखना : यूरीन रोक कर रखने पर ब्लैडर फुल हो जाता है. ऐसे में यूरीन रिफ्लक्स की प्रॉब्लम होने पर यूरीन उपर किडनी की और जा सकती है. इसके बैक्टीरिया के कारण किडनी इन्फेक्शन हो सकता है.
कम या ज्यादा पानी पीना : रोज 8-10 गिलास पानी पीना जरुरी है. इससे कम पानी पीने से बॉडी में जमा टोक्सिंस किडनी फंक्शन पर बुरा असर डालते है. ऐसे ही ज्यादा पानी पीने पर भी किडनी पर प्रेशर बढ़ता है.

ज्यादा नमक खाना : खाने में ज्यादा नमक या अधिक मात्रा में सोल्टी फूड खाने की आदत किडनी खराब कर सकती  है. नमक में मौजूद  सोडियम ब्लड प्रेशर बढाता है, जिसे किडनी पर बुरा असर पड़ता है.
अनावश्यक दवाएं खाना : छोटी-मोटी प्रॉब्लम के लिए एंटीबायोटिक या ज्यादा पेनकिलर्स लेने की आदत किडनी पर बुरा असर डाल सकती है. डॉक्टर्स से पूछे बगैर ऐसी दवाये न लें.

सिगरेट या तम्बाकू की लत : सिगरेट पीने या तम्बाकू खाने से बॉडी में टोक्सिंस जमा होने लगते है, जिससे डैमेज हो सकती है. इससे ब्लड प्रेशर भी बढ़ता है, जिसका बुरा असर किडनी पर पड़ता है.
किडनी इन्फेक्शन से बचने के घरेलू उपाय
दही : रोज एक कटोरी दही खाएं. यह किडनी में गुड और बैड बैक्टीरिया का लेवल मेन्टेन करता है.
नींबू पानी : रोज एक गिलास पानी पिएं. इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंटस किडनी इन्फेक्शन से बचाते है.
अदरक की चाय : रोजाना 2 बार एक कप पानी में अदरक का छोटा-सा टुकड़ा उबालकर पिएं.
एलोवेरा जूस : रोज सुबह खाली पेट 2 चम्मच एलोवेरा जूस पिएं. इससे किडनी इन्फेक्शन का खतरा टलता है.

विडियो देखे >>