मुंह से लेकर पेट तक के रोगों का करें सफाया…

845

सौंफ़ एक सुगन्धित और स्वादिष्ट जड़ी-बूटी है जिसमें कई औषधीय गुण मौजूद हैं. अगर यह अभी आपके रसोई घर में नहीं है, तो इस लेख को पड़ने के बाद आप तुरंत इसे बाजार से खरीदना चाहेंगे.

एक सांस फ्रेशनर के रूप में इसके लोकप्रिय उपयोग के अतिरिक्त, इससे कई बीमारियों को राहत देने में मदद मिलती है. इसके भूख बढ़ाने वाले, वायुनाशी, एंटी-स्पास्मोडिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी, रोगाणुरोधी, कफ निस्सारक, मूत्रवर्धक, डिप्रैरेटिव, एंटी-कार्सिनोजेनिक और एंटी-ऑक्सिडेंट गुणों के कारण यह आपके स्वस्थ्य का एक बहुत ही घनिष्ट मित्र है. इसमें विटामिन सी, पोटेशियम, मैंगनीज, लोहा, फोलेट और फाइबर भी शामिल हैं. यह फायटोनुट्रिएंट्स में भी समृद्ध है और इसमें वाष्पशील तेलों (वोलेटाइल आयल) की उच्च मात्रा है.

सौंफ खाने के फायदे >>

डाईजेशन करें बेहतर – एक चम्मच सौंफ तवे पर थोडा सा सेंक लें. इसे खाना खाने के बाद खाएं. डाईजेशन सुधारने में मदद करता है.

स्किन में ले चमक – सुबह-शाम सौंफ खाने से खून साफ़ होता है और स्किन ग्लो करती हैं.

खांसी में आराम – एक चम्मच सौंफ पानी में उबाल लें. इसमें दो चम्मच शहद मिलाकर पीए. खांसी में आराम मिलेगा.

डायरिया से राहत – एक चम्मच सौंफ और दो चम्मच बेल का गुदा मिला लें. इसे सुबह-शाम चबाकर खाने से डायरिया से राहत मिलती है.

आँखों के लिए फायदेमंद – सौंफ और मिश्री सामान मात्रा में मिलाकर पीस लें. एक महीने तक रोज सुबह शाम यह पाउडर खाकर पानी पी लें. आँखों की रोशनी बढ़ेगी.

साँसों की बदबू से राहत – सौंफ में मौजूद एंटीबैक्टीरियल तत्व मुंह के बैक्टीरिया को ख़त्म करते हैं और बदबू से राहत देते हैं.

मुहासों से राहत – एक चम्मच सौंफ को पानी में उबाल लें. ठंडा होने पर इसे चेहरे पर लगाएं. 15 मिनट बाद धो लें.

छाले करे दूर – एक चम्मच सौंफ पानी में उबाल लें. इसमें चुटकी भर भुनी फिटकरी मिला लें. इससे दिन में दो तीन बार गरारे करें.