ये 9 स्टार बन गए हैं वेजिटेरियन, जानिए अब ये क्यों नहीं खाते नॉनवेज ?

5984

भारत ही नहीं दुनिया के अलग अलग देशो हुई कई रिसर्च में ये साबित हो चुका है कि वेजिटेरियन डाइट हेल्थ के लिए अच्छी होती है। बॉलीवुड में ऐसे कई सितारे हैं जो पहले नॉनवेज खाते थे। लेकिन इनमें से किसी ने अपने फिगर को मेंटेन रखने के लिए तो किसी ने अन्य कारणों के चलते नॉनवेज खाना छोड़ दिया। ये सभी सितारे वेजिटेरियन फूड को अपनी हेल्थ का राज मानते हैं। जानिए ऐसे ही 9 बॉलीवुड स्टार्स के बारे में।

आप इस विडियो में भाई राजीव दीक्षित से नॉनवेज खाने से होने वाली हानियों के बारे में विस्तार से जरुर जाने >>

ये है वो बॉलीवुड सेलेब्रिटी जो पहले नॉनवेज खाते थे लेकिन अब वो नहीं खाते, जानिए उसका कारण 

अमिताभ बच्चन – वेजिटेरियन फूड खाकर ज्यादा एनर्जीटिक महसूस करता है, इसलिए नॉनवेज छोड़कर वेज डाइट फॉलो की

जेकलिन फर्नाडिस – पर्यावरण बचाने के लिए नॉनवेज छोड़ा. वेज डाइट ने शरीर को सही आकार देने में बहुत मदद की.

आलिया भट्ट – ये हेल्दी स्किन और शाइनी हेयर के लिए वेजिटेरियन डाइट फॉलो करती है

कंगना रनौट – अपनी हेल्थ और ब्यूटी को बनाए रखने के लिए नॉनवेज खाना छोड़ दिया

अनुष्का शर्मा – एक साल पहले अपनी कुत्ते के कारण नॉनवेज छोड़ दिया, इनके कुत्ते को मीट की स्मेल अच्छी नहीं लगती थी.

सोनाक्षी सिन्हा – ये वजन कम करने के लिए वेजिटेरियन डाइट फॉलो करती है

विद्या बालन – वे मानती है कि नॉनवेज खाने से वजन बढ़ता है, इसलिए नॉनवेज फ्री डाइट फॉलो करती है

फरहान अख्तर – अपनी हेल्थ को मेन्टेन रखने के लिए उन्होंने नॉनवेज खाना छोड़ दिया

शहीद कपूर – उन्होंने ओथर ब्रियान हाईंस की किताब लाइफ इज फेयर को पढने के बाद नॉनवेज खाना छोड़ दिया

वेज खाने के फायदे :-

बेहतरीन डाइजेशन – वेजीटेरियन डाइट फाइबर से भरपूर होती है इससे डाइजेशन अच्छा होता है और पेट की कई बीमारियों से बचाव होता है

मोटापे से बचाव – वेजीटेरियन डाइट में फैट की मात्रा कम होती है इससे मोटापा और वजन बढ़ने की प्रॉब्लम से बचाव होता है

डायबिटीज से बचाव – इससे मेटाबोलिज्म प्रोसेस अच्छा रहता है बॉडी में फैट और शुगर डिपॉजिट कम होने से डायबिटीज का रिस्क कम होता है

बेहतर मूड – स्टडीस के मुताबिक नॉन-वेज खाने वाले लोगों के मुकाबले वेजिटेरियन लोगों में मोड़ डिस्टरबेंस की प्रॉब्लम कम होती है

हार्ड प्रॉब्लम का कम रिस्क – वेजीटेरियन डाइट से खून में बैड कोलेस्ट्रोल का लेबल ज्यादा नहीं बढ़ता और हार्ट डिजीज का रिस्क भी कम होता है

कम टॉक्सिंस – वेजीटेरियन डाइट में नॉन वेज के मुकाबले कम टॉक्सिन होते हैं इससे थकान कमजोरी जैसी प्रॉब्लम से बचाव होता है

पसीने की बदबू से बचाव – वेजीटेरियन डाइट में स्वेट ग्लैंड को उत्तेजित करने वाले हार्मोन ज्यादा नहीं होते इस से पसीने की बदबू से बचाव होता है

हेल्दी स्किन – वेजीटेरियन डाइट में विटामिंस मिनरल्स और पानी ज्यादा होता है इससे स्किन हेल्थी रहती है

पथरी से बचाव – वेजीटेरियन डाइट से यूरिन का पीएच लेवल हाई रहता है और किडनी में स्टोन बनने का खतरा कम होता है

बीपी कंट्रोल – वेजीटेरियन डाइट से खून की नदियां साफ रहती है और बीपी नॉनवेज खाने वालों की तुलना में नार्मल रहता है