इसका एक चमच शहद के साथ लीजिए और एलर्जी और दुसरे रोगों से छुटकारा पाइये

4113

दालचीनी एक बहुत ही अच्छी औषधि है जो आरोग्य के लिए फायदेकारक है. राजीव जी ने दालचीनी के कई फायदे बताये. उन्होंने बताया कि दालचीनी इतनी अच्छी औषध है कि आप इसके बारे में सुनकर भी हैरान हो जायेंगे. सुबह एक चम्मच दालचीनी का पाउडर और एक चम्मच मध् (शहद) मिलाकर अगर कोई भी खाए तो टीबी, अस्थमा नहीं होगा. और अस्थमा की फॅमिली में होने वाली जितनी भी बीमारिया है ये सब को ठीक करने की ताकत दालचीनी में है. दमा की बीमारी सांस भर्ती है, दस कदम भी नही चल सकते, चले तो बेठना पड़ता है इन सब की औषिधि दालचीनी है.

दालचीनी और उसका पाउडर

उन्होंने आगे इसे खाने का तरीका भी बताया. उन्होंने कहा कि दालचीनी का पाउडर बनाइए और उसको मध में मिलाके खाइए. और अगर आप जैन धर्म का पालन करते है और मध नही खा सकते तो गुड में मिलाके खाइए. जितनी दालचीनी उतना ही गुड, दोनों को गर्म पानी के साथ लीजिये. दालचीनी गंभीर से गंभीर रोग में काम आती है. अगर किसी को बहुत तेज बुखार आया है, सर्दी-जुकाम हो गया है, वायरल या बैक्टीरियल फीवर है इन सारे रोगों में दाल चीनी काम आती है.

उन्होंने आगे और फायदे बताते हुए कहा कि अगर शरीर का मोटापा बहुत हो गया है, शरीर को कभी भी भूख ही नहीं लगती है तो इसमें भी दालचीनी काम आती है. दालचीनी 23 रोगों को ठीक कर देती है. इसे रसोई में जरुर रखिये, दालचीनी को आप सब्जी में डालकर भी खा सकते है. क्योंकि दालचीनी गरम मसाले में डलती ही तो है उस तरह से खाने के रूप में तो उपयोग होता ही है.

लेकिन अगर अलग-अलग तरीके से उसको उपयोग करे तो ये बहुत अच्छी औषध है. अगर आप मेथी दाना खा रहे है तो इसकी जरूरत नहीं है और दालचीनी खा रहे है तो मेथी की जरूरत नही है. एक बार में एक ही औषधि खाइए. बच्चो को आधा चम्मच काफी होता है. बड़े लोगो के लिए एक चम्मच. दालचीनी एलर्जी के लिए बेस्ट मेडिसिन है. अगर आपको किसी भी तरह की एलर्जी है, तो दालचीनी से तीन से चार महीने में एलर्जी ठीक हो जाएगी. एसिडिटी के ऊपर भी दालचीनी बहुत असरकारक है. अगर आप ये सोच रहे है कि ये कहा से मिलेगी तो ये भी हम आपको बता देते है, ये आपके शहर या मोहल्ले में जिस दुकान से आप अपनी रसोई का सामान लेते है उससे ही मिलेगी. जरुर मिलेगी. हम भी वही से लेते है, ज्यादा महंगी भी नहीं है.

विडियो में देखिए कैसे दालचीनी को लेना है >>