जवानी में ही सफेद होने लगे हैं बाल? इनसे बचने के 5 टिप्स जानिए

975

देर रात तक जगने, ज्यादा स्ट्रेस में रहने और अपने खानपान का ध्यान न रखने से आजकल जवानी में ही बाल सफेद होने लगते हैं बालों की सफेदी कम करने के लिए आर्टिफिशियल कलर लगाने से बालों को नुकसान हो सकता है. इसलिए नेचुरल चीजों से बालों की सफेदी कम करना ज्यादा फायदेमंद है. हम बता रहे हैं ऐसी ही 5 चीजों के बारे में जिनसे बालों की सफेदी दूर होती है. इन्हें नियमित लगाने से सफेद बाल भी काले होने लगते हैं.

क्यों जवानी में ही सफेद होने लगते हैं बाल?

बालों में मेलेनिन पिगमेंट होता है. इससे बाल काले या सफेद होते हैं. कई लोगों में मेलेनिन का बनना कम उम्र में ही रुक जाता है. इससे बाल सफेद होने लगते हैं. इससे बचने के लिए जंक फूड न खाए और स्मोकिंग व शराब से बचे रहें.

बालों की सफेदी दूर करने के घरेलु नुख्से>>

कलोंजी का पेस्ट लगाएं – कलोंजी के पेस्ट में दही और शहद मिलाकर लगाने से बालों की सफेदी दूर होती है.

आंवले को पीसकर लगाएं – आंवले को पीसकर लोहे की कडाही में रत भर गला रहने दें. इसे सुबह बालों पर लगाने से सफेदी दूर होती है.

काले तिल लगाएं – काले तिल को कुछ देर पानी में भिगो दें. इसे गाने से बढती उम्र में भी बाल सफ़ेद नही होते है.

पपीता पीसकर लगाएं – कच्चे पपीते को पीसकर इसका पेस्ट बना लें. इसे लगाने से बाल काले होते है.

नारियल तेल लगाएं – नारियल तेल में कढ़ी पत्ता और आंवला मिलाकर तेल गर्म करें. इसे गुनगुना करके लगाने से बाल काले और चमकदार होते है.

ये दो चीजें लगाने से होंगे बाल सफ़ेद>>

आलू का रस – इसमें मौजूद ब्लीचिंग एजेंट्स से बाल सफ़ेद होते है. इसे भूलकर भी बालों में न लगाए.

बियर – इसे डाइल्युट किये बिना लगाने से बालों की सफेदी बढती है. बाल ड्राई होने लगते है.