अगर आप भी अपनी गाय का दूध बढाना चाहते है तो उसे ये वैदिक खुराक दे

52160

यह गाय की एक महीने की खुराक

5kg तारा
10kg सरसो
30 kg जौ
30 kg गेहु
30 kg कपास के बनोले
20 kg चने
15 kg सोयाबीन या मुंगी की दाल कै छिलका
5 kg गुड़
3 kg मेथी
2 kg सुखे आवले
1 kg मीठा सोडा

गाय को दूध बढ़ाने के लिए वैदिक खुराक की विधि:- 
– तारामीरा सरसौ, जौ, गेहु, कपास के बिनोले, चने छिलका ओर मीठा सोडा को बारीक पीसकर उसका दलीया वना के पका कर दिया देना है
– मेथी और आवला कौ बारीक पीसकर गुड डाल कर तीनो को छाछ में 12 घंटे भिगोकर सरबत बना कर उन्हें शाम को गाऐ को देना है टोप कैलशियम तैयार हो गया जी शाम का दलिया मे मिलाकर देना चाहिए और सुबह नमक वाला देना चाहिए
– गाय तो हर रोज 25-30 kg हरी घास(हरा चारा) पेट भर देना चाहिए! 2-3 kg सुखी तुड़ी देना!

खल तो खाद है खुराक नही है  
गाय को कभी न खिलायो जैसे फीड तो जहर है चुरी तो कबाड हाती है और घर का आटा जहर है!

आटा जहर है 
आटा गाय के पेट मे जाकर आतौं को चिपका देता है जब हम पेट मे कीडे की दवा देते है तो कीडे चीपे हुऐ कचे आटे में घुसकर अपनी जान बचा लेते हैं ऐसे वे मरते ही नहीं और दूध बढ़ने की क्षमता को 50% कम करता हैं!

कोई संशय हो तो आप सब पवन खेरा जी से 94160-60052 वाटसप नं पर संपर्क कर सकते हैं !!

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने Whatsapp और Facebook पर शेयर करें