बाल क्यों झड़ते है, और बालों को झड़ने से रोकने के लिए क्या किया जाए जानिये आसन उपाए

1004

आजकल बढ़ते प्रदूषण और गलत खानपान की आदतों की वजह से लोगो में बहुत सी बिमारियां और तकलीफे बढ़ गयी है उनमे से एक है बालो का झड़ना. इसके और भी बहुत से कारण हो सकते है. बालों का उगना और गिरना प्राकृतिक क्रिया है. विकसित बाल 2 से 4 साल तक ही रहते हैं, उसके बाद यह झड़ जाते हैं व इनकी जगह नए बाल आ जाते हैं. बाल यदि स्वाभाविक रूप से गिरते हों यानी रोजाना थोड़े बहुत Hair Fall (बालों का झड़ना) हों तो यह चिंता का विषय नहीं है, परंतु बहुत अधिक झड़ते हों तब वह चिंता का विषय है. बालों के झड़ने की संख्या यदि 70-80 प्रतिदिन हो तो बालों की अधिक देखभाल करें. बालों के झड़ने व गिरने को रोकने के लिए कुछ उपाय नीचे दिए जा रहे हैं.

तेल से बालों की मालिश करना : बाल झड़ने से रोकने के लिए सबसे आसान और कारगर उपाय है सही तेल से बालों की मालिश करना. इससे hair follicles में खून का संचार बढ़ेगा, scalp की natural conditioning होगी और बालों की जड़ें मजबूत होंगी. इससे हमारा दिमाग भी relax होगा और तनाव से मुक्ति मिलेगी. आप बालों की मालिश के लिए नारियल के तेल, बादाम के तेल, जैतून के तेल, अरंडी के तेल या फिर आमला के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं. अच्छा result पाने के लिए तेल में कुछ बूंदे rosemary essential oil की डालकर मालिश करें. ऐसा हफ्ते में एक या दो बार जरुर करें.

आमला का प्रयोग : बालों की natural और fast growth के लिए आमला का प्रयोग करें. शरीर में Vitamin C की कमी के कारण भी बाल झड़ने लगते हैं और आमला में Vitamin C भरपूर होता है. आमला में मौजूद anti-inflammatory, antioxidant, antibacterial और exfoliating गुण scalp को healthy रखते हैं और बालों की growth को बढ़ाते हैं. एक चम्मच आमला के रस को एक चम्मच निम्बू के रस में मिलाएं. रात को सोने से पहले इस मिश्रण से बालों की धीरे-धीरे जड़ों तक मालिश करें. 10 मिनट तक मालिश करने के बाद अपने बालों को टॉवल से ठक लें. सुबह अपने बालों को धो लें.

मेथी के बीज : मेथी बालों के झड़ने को कम करने के लिए काफी effective औषधि है. मेथी के बीजों में antecedents नामक hormone होता है जो hair growth को बढ़ाता है और follicles को rebuild करता है. इसमें प्रोटीन और nicotinic acid भी होता है जो बालों को nutrition देता है. रात को 1 cup मेथी के बीजों को भिगोकर रख दें. सुबह इनको पीसकर पेस्ट बना लें. इस पेस्ट को बालों पर अच्छी तरह से लगा लें फिर अपने सिर को कपड़े से ठक लें. 40 मिनट के बाद बालों को धो लें. इस उपाय को 1 महीने तक रोज सुबह अपनाएं.

प्याज का रस : प्याज में अत्यधिक सल्फर पाया जाता है जिससे follicles में blood circulation बढ़ता है, नई follicles उगती हैं और inflammation कम होता है. प्याज के रस में मौजूद antibacterial गुण germs और parasites को मार देता है और scalp के infection को खत्म करता है. 2002 में Journal of Dermatology में एक शोध प्रकाशित हुआ था जिसके अनुसार 74% participants जिन्होंने अपने सिर पर प्याज का रस लगाया था उनके बालों की growth significantly बढ़ी थी. प्याज को grinder में पीसकर उसका रस तैयार करें. अब इस रस सीधे अपने बालों पर लगा लें और 30 मिनट तक लगा रहने दें. इसके बाद बालों को धो लें. चम्मच प्याज के रस में 2 चम्मच एलोवेरा का रस मिला लें. आप इसमें 1 चम्मच जैतून का तेल भी मिला सकते हैं. अब इसे बालों पर 30 मिनट तक लगाये रखें और फिर धो लें. ऊपर दिए गए 2 तरीकों में से कोई भी एक तरीका हफ्ते में बार करें.

एलोवेरा : एलोवेरा में ऐसे enzymes होते हैं जिनसे directly hair growth बढ़ती है. एलोवेरा में alkaline property भी होती है जिससे बालों का pH level ठीक रहता है और वह स्वस्थ रहते हैं. एलोवेरा का नियमित इस्तेमाल करने से सिर की खुजली, सिर में redness आना और inflammation जैसी समस्याएं दूर होती हैं. साथ ही इससे बालों की strength और चमक बढ़ती है और डेंड्रफ खत्म होता है. आप एलोवेरा gel या juice दोनों का इस्तेमाल कर सकते हैं. एलोवेरा के रस या gel को बालों की जड़ों तक लगायें. कुछ घंटों बाद गुनगुने पानी से बालों को धो लें. इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो से तीन बार करें. आप अच्छी hair growth पाने के लिए रोजाना खाली पेट एक चम्मच एलोवेरा के रस का सेवन भी कर सकते हैं.

मुलैठी की जड़ : मुलैठी की जड़ भी एक ऐसी herb है जो बालों का झड़ना कम करती है. इसमें mollifying गुण होता है जो बालों की जड़ों के pores को खोलता है और सिर में होने वाली जलन को खत्म करता है. इसका इस्तेमाल डेंड्रफ, hair loss और baldness में काफी फायदेमंद है. मुलैठी की जड़ के पाउडर की एक चम्मच को 1 कप दूध में मिलाएं. अब ऊपर से 1/4 चम्मच केसर डालकर अच्छी तरह से घोल लें. अब रात को सोने से पहले इसे अपने बालों पर अच्छी तरह से लगा लें. व उठकर अपने बालों को धो लें. इस उपाय को हफ्ते में एक या दो बार करें.

चुकंदर : चुकंदर में carbohydrates, प्रोटीन, potassium, phosphorus, calcium, vitamin B और vitamin C पाए जाते हैं. यह सभी components hair growth के लिए काफी जरुरी होते हैं. अपने भोजन में चुकंदर के juice को शामिल करें. इसके साथ ही पालक के juice, सलाद और गाजर के juice को भी खूब खाएं जिससे आपके बाल मजबूत होंगे. Boil किये हुए चुकंदर के पत्तों को हिना के साथ पीस लें. अब इसे 15 से 20 मिनट के लिए बालों पर लगाकर धो लें. ऐसा हफ्ते में 3 बार करें.

अलसी के बीज : अलसी के बीजों में omega-3 fatty acids पाई जाती हैं जो बालों के झड़ने को कम करती हैं और बालों की growth को बढ़ाती हैं. बालों का झड़ना कम करने के लिए रोज सुबह एक चम्मच अलसी के बीजों को पानी के साथ सेवन करें. आप अपनी सलाद, juice या सूप में भी अलसी के बीजों का पाउडर डालकर सेवन कर सकते हैं. आप अलसी के बीजों के तेल का भी सेवन कर सकते हैं या इसे बालों पर भी लगा सकते हैं.
नारियल का दूध : नारियल के दूध में प्रोटीन और जरुरी fats पाए जाते हैं जो बालों का झड़ना कम करके उनकी growth को बढ़ावा देते हैं. अगर नारियल के दूध को बालों पर लगाया जाये तो इससे काफी जल्दी results देखने को मिलते हैं. नारियल का दूध आप घर पर ही तैयार कर सकते हैं. एक गिलास पानी में कुछ नारियल के कुछ टुकड़े डालकर पीस लें. अब इसे छानकर दूध अलग कर लें. इस दूध को बालों पर 20 मिनट तक लगाये रखें और फिर धो लें. इसे और ज्यादा effective बनाने के लिए इसमें काली मिर्च का पाउडर मेथी के बीजों का पाउडर भी मिला सकते हैं. अपने बालों के झड़ने को कम करने के लिए ऊपर दिए गए उपायों को नियमित अपनाएं और इसके साथ ही अपनी diet को regular और healthy रखें. हरी पत्तेदार सब्जियों और फलों का अधिक सेवन करें.

विडियो देखे >>