हमारा खून गाढ़ा क्यों होता है, और उससे क्या नुक्सान हो सकते है जानिये इसके लक्षण और उपाए

311

भागदौड़ भरी जिंदगी में किसी के साथ अपने लिए समय नहीं है. पैसा कमाने की दौड़ में लोग इतने व्यस्त हो चुके है कि उनके पास समय खाना खाने और व्यायाम करने तक का टाइम नहीं है. ऐसे में बीमार पड़ना जाहिर सी बात है. इन बीमारी में रक्त की विषाक्तता है, यानी खून धीरे-धीरे खराब होने लगता है जो बाद में कई गंभीर बीमारियों का कारण बनता है.

दरअसल खून की खराबी का सबसे बड़ा लक्षण त्वचा रोग जैसे दाग-धब्बे फुंसियां, या संक्रमण यह सभी रक्त विकारों के कारण होते है. ब्लड साफ़ और पतला करने के लिए कुछ लोग दवा लेते है पर देसी नुस्खे और आयुर्वेदिक उपचार अपना कर ब्लड साफ़ करने के घरेलू उपाय भी कर सकते है. आज हम जानेंगे खून साफ़ कैसे करे

खून साफ़ ना होने के लक्षण क्या है : अपने आस पास हम अक्सर कुछ ऐसे लोग देखते है जिनके चेहरे पर बार बार पिम्पल्स और फोड़े फुंसी निकल आते है. इसके इलावा कुछ ऐसे भी लोग है जिनका वजन कम होता है और कुछ लोग थोड़ा काम करने पर ही जल्दी थक जाते है, कुछ लोगों को पेट से जुड़ी कोई ना कोई परेशानी रहती है. इन सब लोगों में ज्यादातर ये समस्या खून साफ़ ना होने के कारण होती है.

खून साफ़ करने के लिए क्या करे : ख़राब खून को साफ़ करने से पहले इस बात की जानकारी होना चाहिए की शरीर में blood clean करने की प्रक्रिया कैसे काम करती है. ब्लड साफ करने की प्रक्रिया में लिवर में जमा होने वाले ब्लड को साफ़ किया जाता है, जिसके लिए कुछ लोग खून साफ करने की दवालेते है पर ये medicine गर्म होती है और इनके सेवन से ब्लड प्रेशर में कुछ गलत बदलाव भी आ सकते है पर आयुर्वेदिक दवा और घरेलू उपाय के इस्तेमाल से ये समस्या नहीं होती. घर में करने वाले ये उपाय खून तो साफ़ करते ही है साथ ही रक्त संचार भी अच्छा करते है.

खून साफ करने के उपाय और घरेलू नुस्खे : खून साफ़ करने के तरीके में सबसे पहला तरीका है पानी ज्यादा पिए. हमारे शरीर में एक तिहाई भाग पानी का है. शरीर से विषैले पदार्थ बाहर निकलने और बॉडी को डिटॉक्स करने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए.

ब्लड साफ़ करने और अच्छी सेहत पाने के लिए घर में प्रयोग होने वाले सौंफ को कई तरीके से इस्तेमाल कर सकते है. सौंफ से ब्लड साफ़ करने के उपाय में सब से पहले बराबर मात्रा में मिश्री और सौंफ ले कर पीस ले. अब इस मिश्रण को 2 महीने तक सुबह शाम पानी के साथ ले. इस देसी नुस्खे से शरीर में खून का प्रवाह अच्छा होता है, त्वचा की समस्याएं दूर होती है, आँखो की रोशनी बढ़ती है और खून साफ़ होता है.

पसीना आने से शरीर की अशुद्धियाँ बाहर निकलती है. शारीरिक श्रम करे ताकि पसीना ज्यादा आए. पसीना लाने के लिए आप एक्सरसाइज और योगा भी कर सकते है. योग से तन और मन स्वस्थ रहेगा, ज्यादा पसीनाआएगा और योग करते वक़्त हम ज्यादा ऑक्सीजन लेते है जिससे blood circulation अच्छा होता है. खून साफ़ करने की आयुर्वेदिक दवा में गेंहू का ज्वारा दवा की तरह काम करता है. ये शरीर से विषैले पदार्थ बाहर निकल कर ब्लड साफ़ करने की प्रक्रिया को बढ़ाता है.

ब्लड साफ़ करने के लिए क्या खाये : हम जो भी आहार खाते है उसका असर हमारी सेहत पर पड़ता है. अच्छा पौष्टिक आहार खाने से हमारे शरीर के सभी अंगो को जरुरी पोषण मिल पाता है जिस से शारीरिक विकास अच्छे से होता है.

खून को साफ करने वाले आहार में ऐसे food शामिल करे जिनमें फाइबर अधिक मात्रा में हो जैसे की गाजर, मूली, चकुंडर, शलगम, ब्राउन राइस, हरी सब्जियां और ताजे फल. ये फूड शरीर में खून बनाने और साफ़ करने में मददगार है. विटामिन सी भी ब्लड साफ़ करने में फायदा करता है. अपनी डाइट में ऐसी चीजें खाये जिनमें विटामिन सी की मात्रा अधिक हो जैसे की नींबू और संतरा.

अगर आपको रक्‍त वाहिका, दिल का कोई रोग या दिमाग तक खून का प्रवाह सही तरीके से ना हो रहा हो तो डॉक्टर आपको blood को पतला करने की सलाह देंगे. खून का गाढ़ा होना दिल के दौरे की संभावना को बढ़ाता है, क्‍योंकि इसके कारण रक्‍त वाहनियों में खून का थक्का जमना जैसी समस्या आने लगती है. ब्लड को पतला करने का तरीका में कुछ लोग दवा का सहारा लेते है पर खून पतला करने वाली मेडिसिन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्युकी ज्यादा पतला होने पर ब्लीडिंग की समस्या हो सकती है. बिना डॉक्टर की सलाह के कभी खून पतला करने की दवा ना ले.

विडियो देखे >>