एक दुसरे के विपरीत ये चीजें कभी साथ ना खाए, नहीं तो तकलीफ ही तकलीफ है जिंदगी में

3280

दोस्तों राजीव भाई ने खाना खाने के कुछ नियम पिछले विडियो में बताए थे, जैसे बैठकर खाना खाए, खाना चबाकर खाए. अब हम अगले नियम की बात करेंगे. अगर आपको पिछले नियम के बारे में गहराई से जानना है तो आपको पिछले कुछ विडियो देखने होंगे.

अब हम तीसरे नियम के बारे में बात करेंगे. ये नियम बहुत महत्व का है और इसको बहुत ध्यान से जानिए. खाना खाते समय दो विरुद्ध वस्तुए कभी भी एक साथ मत खाइए. उदहारण के लिए दही और दूध कभी भी एक साथ मत खाना. अगर आपको दही से बनाई हुई कोई भी वस्तु खानी है तो दूध की कोई वस्तु साथ में मत खाइए जैसे आपको कढ़ी कहानी है तो बासुंदी (ये दूध से बनती है) मत खाइए. अगर बासुंदी खानी है तो कढ़ी मत खाइए. ऐसे ही अगर दूध पीना है तो ताक (छांछ या लस्सी) मत पीजिये. ये एक दुसरे के विपरीत है.

इसी तरह से मध (शहद) और तूप (मलाई) कभी भी साथ में मत खाइए मध खाना है तो मलाई कभी मत खाइए. इसी तरह से उड़द की दाल और दही कभी भी एक साथ ना खाए, ये बहुत ही खतरनाक है. उड़द की दाल के साथ दही कभी भी का मत खाइए, नही तो जिंदगी में इतनी खराब बीमारी आयेगी की आप परेशान हो जायेंगे. पापड़ और दूध कभी भी एक साथ मत खाइए नही तो बहुत ही खराब तकलीफ आने वाली है. आयुर्वेद में अष्टांग हृदय शास्त्र में सबसे ज्ञानी व्यक्ति जिनका नाम था वागभट्ट उन्होंने पूरी सूची बनाई है जिसमे कुल 103 वस्तुए है उस लिस्ट को हम अलग से दुसरे व्याख्यान पोस्ट में पब्लिश करेंगे.

अब आपको ध्यान रखना है कि ये विपरीत चीजे कभी भी साथ ना खाए. अगर अपने इसका ध्यान रख लिया तो जिंदगी में कभी भी आपको ऐसे रोग नही आएंगे जो ला इलाज है. आजकल एक शरीर की चमड़ी का रोग आया है जिससे शरीर पर दाग हो जाते है, जो लोग विरुद्ध वस्तुए खाते है उनको सबसे पहले स्किन रोग होते है, yये रोग भी उन्ही को होता है जो जो सतत विरोधी वस्तुए खाते है.

एजी आगे बात करते है कांदा (प्याज) के साथ कभी भी दूध ना पिएं. अगर दूध पी रहे है तो प्याज ना खाए. जो लोग इन दो चीजो को साथ खाते है उनको मालूम नही है कि ये बीमारी अगर एक बार शरीर में घुस गयी तो सालो साल निकलती नही है. और एलॉपथी (अंग्रजी दवा) में तो इसका इलाज भी नही है,

कई बार आप विरुद्ध वस्तुए साथ में खाते है जैसे पापड़. पापड़ में अगर उड़द की दाल है और आपने उसके साथ दूध या दही खाते है तो आपको कभी भी हार्ट अटैक आ सकता है.

इस नियम को आयुर्वेद में बहुत सख्ती से बनाया है. हमे कभी भी दो विरुद्ध वस्तुए साथ नही खानी चाहिए. अब आगे बात करते है आइसक्रीम खाना है चाय मत पीजिये, चाय पीनी है आइस क्रीम मत खाइए. कॉफ़ी पीनी है तो आइस क्रीम मत खाइए, आइस क्रीम खाई है तो कॉफ़ी मत पीजिये. अगर आपने गर्म गर्म भोजन किया है, तो कभी भी आइस क्रीम मत खाइए.

ऐसी कुछ 103 चीज़े आयूर्वेद में बाताई गई है । जो एक साथ कभी नहीं खानी चाहिए उदाहरण के लिये प्याज और दूध कभी एक साथ न खाये । एक दुसरे के जानी दुशमन हैं । इसको खाने से सबसे ज्यादा चमड़ी के रोग आपको होगें दाद, खाज, खुजली, एगसिमा, सोराईसिस, आदि । ऐसी ही कटहल (jack fruit )और दूध कभी न खाये । ये भी जानी दुश्मन हैं । ऐसे ही खट्टे फ़ल जिनमे सिट्रिक ऐसिड होता है कभी न खायें । एक सिट्रिक ऐसिड तो इंसान का बनाया है एक भगवान का बनाया है । जैसे संतरा । कभी दूध के साथ न खाये ।  आयुर्वेद के अनुसार अगर कोई खट्‌टा फ़ल दूध के साथ खाने वाला है वो एक ही है आवला । आवला दूध के साथ जरुर खाये ।  इसी तरह शहद और घी कभी भी एक साथ न खायें ।

आम की दोस्ती दूध से जबरद्स्त हैं लेकिन खट्टे आम की नहीं |इसलिये मैग़ो शेक पी रहे है तो ध्यान रखे आम खट्‌टा ना हो । ऐसी ही उरद की दाल और दही एक दुसरे के जानी दुशमन हैं । उरद की दाल पर भारत में जितनी रिसर्च हो चुकी हैं तो ये पता लगा ये दालो की राजा है । हमेशा अकेले ही खाये दही के साथ तो भूल कर भी ना खाये । आप इसका अपने शरीर पर परिक्षण करे । एक खाने से पहले अपना b.P चैक करें. फ़िर उरद की दाल और दही खाये । आप पायेगें 22 से 25 % आपका B.P बढ़ा हुआ होगा । अर्थात ये अगर रोज रोज आप उरद की दाल, दही खा रहें है तो 5, 6 महीने में हार्ट अटैक आ ही जायेगा .

हमारी सभी भाई बहनों से विनती है कभी भी विपरीत चीजे साथ में ना खाए. ये बहुत ही खराब होती है. और उसकी वजह से हम खुद इतने पीड़ित हो जाते है जिसमे लाखो रूपये हमारी जिंदगी के चले जाते है. वो एक छोटी सी गलती जिंदगी भर के लिए भारी पड़ जाती है इलसिए आयुर्वेद में सख्ती से ये नियम है कि दो विरुद्ध वस्तुओ को कभी भी एक साथ मत खाना.

इस विडियो में देखिए क्या क्या साथ नहीं खाना चाहिए >>