कामधेनु दंतमंजन (कला दंतमंजन) कैसे बनाये

3910

सामग्री

  1. गाय के गोबर के कंडे का कोयले का बारीक़ पाउडर       01 किलो
  2. सादा कपूर (पपड़ी वाला)                           20 ग्राम
  3. अजवाइन का सत                                 20 ग्राम
  4. सादा नमक (बारीक़ पाउडर)                       160 ग्राम
  5. सादा पानी                                          160 मि.ली.

बनाने की विधि

  1. कंडे बनाने का कोयला – गोबर के कंडो को साफ सुथरी जगह या कढाई रखकर जलाये l जब आधे जल जाए तो किसी साफ बर्तन से ढक दें तथा आसपास की हवा बंद करने के लिए टाट या बोरी दबा दे l लगभग आधा या एक घंटे बाद खोलकर कोयला निकाल ले और जली सफ़ेद रख कम में न लें l थोड़े दन्त मंजन के लिए छोटी मात्रा में प्रयोग करे l यदि ज्यादा मात्रा बनानी है तो जमीन में गड्डा खोदकर ईटी सीमेंट से प्लास्टर कर भट्टी बनाकर उसे कोयला बनाने के कम लाया जाता हैं l
  2. इस तरह बने कोयले को खरल में बारीक पीसकर सूती के बारीक कपडे से रगड़कर छानकर बहुत बारीक़ पाउडर बना लें l
  3. उपरोक्त मात्रानुसार कपूर और अजवाइन के सत को एक शीशी में मिलाकर 1 घंटे रखें l यह अपने आप घुलकर 40 मि.ली. कपूर का तेल बन जायेगा l कुछ कमी रहे तो अच्छी तरह हिला कर ठीक कर लें l
  4. कपूर के 40 मि.ली. तेल को 1 किलो कोयले के पाउडर में मिला दें l
  5. फिर सादा नमक पानी में मिलाकर गरम करके पूरा नमक घोल दें l
  6. अब तीनो चीजे (कोयला,कपूर तेल और नमक) किसी साफ बर्तन या कढाई में अच्छी तरह हाथो से मलकर मिलाए, तत्पश्चात इसे आधा घंटे तक खरल में रगड़े और बहुत ही बारीक़ पाउडर बनाएं l
  7. तैयार मंजन पाउडर को शीशियों में पैक करें इसे सुखाने न दे नमी की स्थिति में ही पैक करें l
  8.  अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो जन-जागरण के लिए इसे अपने  Whatsapp और  Facebook पर शेयर करें