टॉसटीलाइटीस और गले की तकलीफ में कभी भी ऑपरेशन ना कराए, इस घरेलू इलाज से करे ठीक

4007

नमस्कार दोस्तों, आपका एक बार फिर से हमारी वेबसाइट में बहुत बहुत स्वागत है. यहाँ आपको राजीव जी के हर प्रकार के घरेलू नुस्खे एवं औषधियां प्राप्त होंगी, तो दोस्तों आज की हमारी चर्चा का विषय है टॉन्सिल्स और थ्रोट इन्फेक्शन. ये आम तौर पर बच्चो में पाया जाता है. ऐसे में अगर आप डॉक्टर के पास जायेंगे, तो वह कहेगा कि ऑपरेशन करवा लो काट के निकाल देंगे.

अगर एक बार भी आपने अपने बच्चे का ऑपरेशन करवा लिया और इसको काट कर निकल लिया तो, फिर उम्र भर उन पर कोई दवा-दारु असर नही करेगी, और आपके बच्चे को सब तकलीफों को सहते हुए ही जिन्दा रहना पड़ेगा, तो दोस्तों टॉन्सिल्स के लिए आपको किसी तरह के ऑपरेशन की कोई जरूरत नही है. आपके लिए हल्दी का सेवन ही इस बीमारी के लिए बेहद फायदेमंद हो सकता है.

अगर आपको ये टॉन्सिल्स बहुत समय से है तो आपको हल्दी का सीधा-सीधा इस्तेमाल करना होगा. इसके लिए आपको एक चम्मच में हल्दी भरनी है और मुहँ में सीधे डाल लेनी है. ऐसा करने से ये आपकी लार के साथ मिलकर सीधे अंदर उतर जाएगी. अगर ऐसा आपने एक हफ्ते में तीन दिन भी कर लिया, तो चौथे दिन तक आपका बच्चा एकदम ठीक हो जायेगा. तो अगर आपके टॉन्सिल्स ज्यादा पुराने नही है तो आप हल्दी को दूध में भी मिला कर इसका सेवन कर सकते है, और जिनका टॉन्सिल्स पुराना है उनको हल्दी लेने के एक घंटे तक पानी बिलकुल नही लेना.

इसके इलावा हल्दी आपकी एक और बीमारी ठीक कर सकती है. उस बीमारी का नाम है थ्रोट इन्फेक्शन, यानी की गले में इन्फेक्शन या किसी प्रकार की खराश. ऐसे में आपको हल्दी को दूध में घी मिलाकर एक-साथ लेना है. एक गिलास दूध में चौथाई हिस्सा हल्दी रहेगा और एक चम्मच घी रहेगा. ध्यान रखिये की घी गाय का शुद्ध घी होना चाहिए. फिर इसको अच्छे से उबाल लीजिये और चाय की तरह पीजिये. और याद रखिये कि इस दूध में चीनी न मिलाएं उसकी जगह आप गुड़ का इस्तेमाल कर सकते है.

इस विडियो में देखिए इसको कैसे लेना है >>