ये खराटे, नाक से खून बहना, नींद ना आना जैसी बिमारियों को भी ठीक करती है

2080

आपको अगर बहुत ही गंभीर सिरदर्द है यानि माइग्रेन तो उसकी सबसे अच्छी दवा अपने घर में ही है. इसकी दवा है मैथीदाना. आधा चम्मच मैथी का दाना ले लीजिए और उसको रात को पानी में भिगो दीजिए, रात भर उसको रखे रहें दीजिए, सुबह मैथीदाने को चबाकर खाइए और पीछे से पानी पी लीजिए. ये सिरदर्द भी ठीक कर देगा.

और एक अच्छी दवा है सिरदर्द की गाय का देसी घी. उसकी एक एक बूँद नाक में डालकर सौ जाइए. और इससे सभी तरह के सिरदर्द ठीक हो जाएंगे. और देसी गाय का घी जब आप नाक में डालेंगे सिरदर्द तो ठीक होगा ही साथ में जिनके नाक से खून निकलता है और जिनको नकसीर की बीमारी है नाक फट जाती है और खून निकलता है उनके लिए ये देसी गाय का घी ही दवाई है उससे ये सब रोग ठीक हो जाते है.

जिन लोगों को रात को नींद नही आती और बिस्तर पर करवटें बदलते रहते है वो नाक में गाय का घी डालकर सो जाइए बहुत अच्छी नींद आएगी. जिन लोगों की अक्सर नाक बंद हो जाती है और मुंह से सांस लेते रहते है वो भी नाक में देसी गाय का घी डालें उनका नाक एकदम खुल जाएगी.

बहुत से लोग रात को सोते समय नाक से आवाज करते हैं मतलब खर्राटे लेते है. सोने वाला तो मस्त सोता है लेकिन साथ में सोने वाला परेशान होता है. तो उनकी नाक में रात को हल्का गर्म करके देसी गाय का घी डालिए. हमेशा के लिए खर्राटे चलना बंद हो जाएंगे.

जब किसी को सर्दी हो, नजला हो, नाक से छींके आती हों, नाक से बार बार पानी निकलता हो इस तरह के सभी रोगी रात को देसी गाय का घी नाक में डालकर सोएं. नाक से छींके, पानी आना जैसी सभी बिमारियां ठीक हो जाएगी.

कैसे बनाये देसी गाय का घी – आप देसी गाय का दूध लीजिये, दूध की दही बनाइए. दही से मठ्ठा या लस्सी बनाएं उसमें से मक्खन निकालिए. मक्खन को गर्म कीजिए फिर जो घी बनेगा, ये घी नाक में डालिए. ये घी काम का है. बहुत सारी महिलाएं मलाई से घी निकालती हैं, वो अच्छा तरीका नही है.

इस विडियो में देखिये इसको कैसे डालना है >>