खाली पेट अगर तुलसी के पत्तों को दूध में डालकर पिया जाए तो शरीर को मिलते है चमत्कारी फायदे

302

दोस्तों आज हम आपके लिए जो टॉपिक लाये है वो तुलसी वाले दूध के बारे में है |खाली पेट इन पत्तियों को दूध में डालकर पीने से मिलते है अद्धभुत फायदे ….!!भारत देश एक ऐसा देश जहा सदियों से बीमारियों के इलाज के लिए आयुर्वेदिक व घेरलू नुस्खों का प्रयोग किया जाता है |क्योकि उनका मानना था का इन आयुर्वेदिक नुस्खों का हमारे शरीर पर कोई भी साइड इफ़ेक्ट नहीं होता है और ये बिलकुल सत्य भी है |देसी नुश्खे हमेशा से ही काफी फायदेमंद साबित होते आये है और आगे भी होते रहेंगे

तुलसी का पौधा एक ऐसा पौधा है जो हर घर के आँगन में पाया जाता है |सर्दी हो या जुकाम घर के बड़े बुजर्ग बस ये ही कहते है की तुलसी वाली चाय बना कर पि लो |लेकिन क्या आप जानते हो की अगर सुबह खाली पेट तुलसी वाला दूध पिया जाये तो ये हमारे शरीर के लिए रामबाण औषधि का काम करता है | तुलसी में बहुत सारे औषधीय गुण पाए जाते है |जैसे ट्रैनिन ,लिनोलिक अमल ,ग्लाइकोसाइड |इसके अतिरिक्त इसमें ऑक्सीजन रोधी गुण भी पाए जाते है |जिनका प्रयोग विकिरण से क्षतिग्रस्त कोशिकाओं की मरम्मत में किया जाता है |

तुलसी में विधुत शक्ति भी होती है |इसलिए कई लोग गले में तुलसी की माला पहनते है |ताकि मानव शरीर की विधुत शक्ति सुरक्षित रह सके |तुलसी की माला पहनने से व्यक्ति कई सक्रामक रोगो से बचा रहता है |तुलसी का पौधा अपनी वायु से आकाश ,धरती व जल को शुद्ध करता है |तुलसी में एक विशेष प्रकार का एसिड होता है जो गंदगी को दूर करने में काम आता है |

तो आइये जानते है की तुलसी वाला दूध पीने से हमें क्या क्या अद्धभुत फायदे मिलते है और हम किस तरह से सुरक्षित रह सकते है :-

तुलसी वाला दूध पीने से ह्रदय रोगियों को बहुत ही फायदा मिलता है |अगर हम सुबह खाली पेट तुलसी वाला दूध पीते है तो इससे हमारा ह्रदय सही ढंग से कार्य करता है |अगर किसी को ह्रदय रोग हो चूका हो या फिर किसी को होने के चान्सेस हो और आप भी चिंतित है की कही ह्रदय रोग मुझे न हो जाये तो आप सुबह खाली पेट इस दूध का सेवन करे तो आप ह्रदय रोग की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा |

तुलसी वाला दूध पीने से हमें फ्लू जैसी बीमारी का भी समाना नहीं करना पड़ता है |अगर किसी को फ्लू जैसी बीमारियों का सामना करना भी पड़ जाये तो तुलसी वाला दूध पीने से हमें फ्लू से लड़ने की ताक़त प्रदान करता है |

तुलसी वाला दूध पीने से मनुष्य का तनाव कम हो जाता है |क्योकि आजकल की दुनिया तनाव से भरी हुई है ऐसा कोई भी मनुष्य नहीं है जिसे तनाव न हो |ऐसे में तुलसी वाला दूध पीना हमरी सेहत के लिए बहुत ही अच्छा है |जिससे नर्वस सिस्टम भी ठीक हो जाता है |जिससे व्यक्ति का तनाव अपने आप कम हो जाता है |और किसी भी प्रकार का डिप्रेशन नहीं होता है |  अगर किसी को पथरी की शिकयत हो या फिर पथरी होने के शुरआती लक्षण दिखाई दे रहे हो तो ऐसे में हमें तुलसी वाला दूध पीना चाहिए |और इसके सेवन से किडनी में मौजूद स्टोन गल जाती है |या फिर ये टूटकर बाथरूम के जरिये बाहर निकल जाती है |

सिरदर्द की शिकायत होने पर भी तुलसी वाला दूध पीने से यह समस्या दूर हो जाती है | सिरदर्द कभी तेज होता है तो कभी धीरे धीरे जो कई बार माइग्रेन का भी कारण बन जाता है |लेकिन तुलसी वाला दूध पीने से सिरदर्द की समस्या का भी समाधान हो जाता है | तुलसी वाला दूध पीने से सर्दी जुकाम व खांसी तथा सांस से सम्बंधित रोगो का भी निवारण हो जाता है |आपको कोई भी सांस से सम्बंधित समस्या हो जैसे अस्थमा तक वो भी इससे ठीक हो जाती है |

कैंसर जैसी समस्या होने पर भी तुलसी वाला दूध बहुत ही फायदेमंद साबित होता है |क्योकि तुलसी में antioxident गुण पाए जाते है |और ये antiboitic का काम भी करता है |जो शरीर में कैंसर की कोशिकाओं को पनपने नहीं देता है |

देखा दोस्तों कैसे खाली पेट तुलसी वाला दूध पीने से हम किस तरह से कई बीमारियों से बच सकते है |