सर्दी जुकाम से बचने के लिए अपनाएं ये 5 सरल नुस्खे, पलभर में खुल जाएगी बंद नाक

691

जैसा की हम सभी जानते ही हैं कि नया साल शुरू हो चुका है और इस नए साल में सर्दी भी अपनी चर्म सीमा पर पहुँच चुकी है. ऐसे में बूढ़े हो, जवान हो या फिर बच्चे हर कोई ठंड की चपेट में आ रहा है. सर्दी के इस मौसम में सर्दी जुकाम और बुखार जैसे कईं रोग हमे अपना शिकार बना लेते हैं. वहीँ आज हम आपको इस ख़ास लेख में कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें घर पर इस्तेमाल करके आप सर्दी जुकाम एवं बंद नाक से छुटकारा पा सकते हैं. तो आईये जानते हैं इन नुस्खों के बारे में…

पीएं हल्दी वाला दूध

हल्दी रसोई घर में इस्तेमाल किया जाने वाला एक मसाला है. यह खाने को ना केवल रंगीन बनाती है बल्कि उसका स्वाद भी दुगुना कर देती है. आयुर्वेद ग्रंथ में हल्दी के अनेकों फायदे बताये गये हैं. हल्दी खाने से शरीर को गर्माहट मिलती है और जुकाम सही हो जाता है. यदि आपको जुकाम हो गया है तो आप एक गिलास दूध गर्म करके उसमें हल्दी मिला कर पी लें. दिन में दो बार हल्दी वाला दूध पीने से शरीर में गर्मी आती है और सर्दी कौसों दूर भाग जाती है. आप चाहें तो इस दूध के अंदर इलायची और काली मिर्च का पाउडर भी डाल सकते हैं. हल्दी वाले दूध में इलायची और काली मिर्च मिला कर पीने से खांसी और गले की दर्द भी सही हो जाती है.

अदरक का करें सेवन

अदरक पेट साफ़ करने के लिए बेहतर आयुर्वेदिक औषधि माना गया है. अदरक की तासीर गर्म होती है इसलिए सर्दी में इसे अक्सर अधिक इस्तेमाल किया जाता है. अदरक खाने से नाक एकदम खुल जाती है और गले को भी राहत पहुंचती है. यदि आप जुकाम से पीढित हैं तो अदरक लेकर उसे भून लें और शबा कर अच्छे से खाएं.ऐसा करने से ना केवल आपका जुकाम सही हो जाएगा बल्कि खांसी से भी आपको राहत मिलेगी. खांसी होने पर एक चम्मच शहद में अदरक का रस मिला कर इस मिश्रण को पी लें इससे आपको राहत मिल जाएगी.

गर्म काढ़ा पीएं

सर्दी जुकाम के लिए काढ़े को सबसे उत्तम औषधि माना गया है. यह पीने में भले ही कड़वा होता है लेकिन इसके फायदों की लिस्ट काफी लम्बी है. काढ़ा बनाने के लिए तुलसी के कुछ पत्ते लें और इन्हें चाय के पानी में मिला लें. अब इस पानी में लौंग, अदरक, काली मिर्च दाल कर अच्छे से उबाल लें. उबलने के पश्चात इसको छान कर पी लें इससे आपकी सर्दी, खांसी और जुकाम तीनों दूर भाग जायेंगे.

चबाएं तुलसी के पत्ते

तुलसी को देवी देवताओं पर चढाया जाता है और इसकी पूजा की जाती है. इसके पत्तों में औषधीय गुण पाए जाते हैं जोकि सर्दी और खांसी को ठीक करने के काम आते हैं. तुलसी के पत्ते चबाकर खाने से जुकाम सही हो जाता है. इसलिए जुकाम होने पर आप तुलसी के पत्तों को समय समय पर चबाया करें। इसके अलावा तुलसी और बांसा की पत्तियां का काढ़ा पीने से खांसी से आराम मिल जाता है और खांसी दूर हो जाती है।

ये विडियो देखिये >>