जीभ को तालु से लगाने पर मिलेंगे ये गजब के फायदे, 1 मिनट में दिखने लगेगा लाभ

3210

भारत ही नहीं बल्कि आज पूरे विश्व भर में ऐक्यूप्रेशर पद्धति का बोल बाला है । आज दावों का सेवन करने बेहतर लोग योग, प्राणायाम और ऐक्यूप्रेशर को अपनाने में फायदा समझते हैं और सही भी है आखिर दवाओं का सेवन हमारे शरीर को खराब करता है । इन दूसरे उपायों को अपनाने से हमारा शरीर और स्वास्थ्य अच्छा भी रहता है और बाकी कई बीमारियाँ हमारे शरीर को छु कर भी नही निकाल पाती है ।

आज हम बात करने जा रहे हैं कुछ योग क्रियाओं के बारे में जिनको अपना कर आप कई बीमारियों से निजात पा सकेंगे । आज के अंक में हम बात करने जा रहे हैं एक खास योग क्रिया के बारे में जिसके बारे में जानकार आपको हैरानी होगी की मात्र एक मिनिट से आपको 3 तरह के जबर्दस्त फायदे हो सकते हैं । जी हाँ आपको खुद के ,लिए सिर्फ 1 मिनिट का समय निकालना है और आप पायेगे की कुछ दिनों में ही आपके स्वास्थ्य में फरक पड़ने लगा है और इसका असर आपके शरीर पर पड रहा है । आइये जानते हैं इस बारे में कुछ खास ।

आपको बहुत ज्यादा कुछ नही करना है आपको करना बस इतना सा है की आपको अपनी जीभ से अपने तालु को छूना है और फिर साँस लेनी है। जिन लोगो को रात में नींद नहीं आती यह उपाय करने से उनको अच्छी नींद आ जाएगी।

ऐसे साँस लेते हुए आपको थोड़ा अजीब लगेगा पर विश्वास करें इस व्यायाम से बहुत लाभ मिलेगा। इसका शक्तिशाली प्रभाव सीधा आपके स्वास्थ्य पर पड़ेगा।

इसको करने का तरीका

अपनी जीभ की नोक से अपने तालु को छुए और ऐसे ही साँस लें। फिर अच्छी तरह से अपने फेफड़ों की साँस को बाहर निकालें। अपनी नाक से साँस लें फिर चार तक गिने फिर अपनी साँस रोक लें सात तक गिने। एक लंबी साँस ले और अपना मुह साँस से फुला लें फिर आठ की गनती तक मुह से सीटी की आवाज़ निकालें। इस प्रक्रिया को चार बार दोहराएं।

•   इस प्रक्रिया को रोज़ाना दो तीन महीनों तक लगातार किया जाए तो शरीरिक क्रिया विज्ञान की मदद से आपको बहुत से महत्वपूर्ण बदलाव देखनें को मिलेंगे।

•   यह शरीर के तनाव से छुटकारा पाने और आराम करने के लिए मदद करता है।

•   बता दे कि यह आपके पाचनतंत्र को ठीक करता है और हृदय की धड़कनो को कम करता है. इसके साथ ही आपके रक्तचाप को भी धीमा करता है.

•   गौरतलब है, कि यदि आपको रात को सोने में परेशानी होती है, तो ये तरीका जरूर अपनाएँ.

•   इसके इलावा इस व्यायाम के लिए आपको किसी भी दवाई की जरूरत नहीं पड़ेगी. इस व्यायाम के लिए बस आपको अपनी जीभ और अच्छे से साँस लेने की योग्यता आनी चाहिए.

•   यह अदभुत तरीका डॉ.एंड्रीयू वैल के द्वारा खोजा गया है। यह आसान-सा तरीका आपके तांत्रिक तंत्र को प्राकृतिक तरीके से ठीक करने मे मदद करता है।